Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

इंडिया ने जीता जूनियर हॉकी वर्ल्ड कप, इतिहास रचने में लगे 15 साल

 Abhishek Tripathi |  2016-12-18 14:51:57.0

a1तहलका न्यूज ब्यूरो
लखनऊ. भारतीय पुरुष जूनियर हॉकी टीम ने जूनियर वर्ल्ड कप हॉकी टूर्नामेंट बेल्जियम को 2-1 से हराकर जीत लिया है। लखनऊ के ध्यानचंद स्टेडियम में मैच खेला गया। फर्स्ट हॉफ में ही भारत ने अपोजिट टीम पर 2-0 की बढ़त बना ली थी। भारत ने पहले हाफ के 8वें और 14वें मिनट में गोल किए। बेल्जियम ने आखिरी मिनट में गोल किया। इससे पहले, भारत ने 2001 में वर्ल्ड कप टूर्नामेंट का खिताब अपने नाम किया था। खिताब जीतने के बाद कप्तान हरजीत सिंह ने कहा 'भारत ने दिखा दिया है कि उसकी हॉकी फिर ट्रैक पर आ गई है। इस दिन के लिए हम 2 साल से मेहनत कर रहे थे।' गुरजंत सिंह मैन ऑफ द फाइनल बने। बता दें, 15 साल बाद भारत ने ये इतिहास रचा है। इससे पहले वर्ष 2001 में भारत ने वर्ल्ड कप जीता था।


भारत की तरफ से पहला गोल गुरजंत सिंह ने किया। स्टेडियम में इस दौरान भारत माता की जय और इंडिया-इंडिया के नारे लगे। दूसरा गोल, सिमरनजीत सिंह ने 14वें मिनट में किया। बेल्जियम को 30वें मिनट में पेनॉल्टी कॉर्नर मिला था। इंडियन टीम के डिफेंस ने उसे नाकाम कर दिया था। इस मैच को देखने के लिए सीनियर टीम के प्लेयर भी पहुंचे थे।


दूसरे हाफ के शुरू में दोनों ही टीमों ने डिफेंस पर ज्यादा फोकस किया। भारत के लिहाज से ये फायदे की स्ट्रैट्जी रही। क्योंकि वह पहले हाफ में ही बढ़त में था। दूसरे हाफ के 18वें हाफ में भारतीय टीम को लीड बढ़ाने का मौका मिला। लेकिन ये पेनॉल्टी कॉर्नर गोल में कन्वर्ट नहीं किया जा सका। दूसरे हाफ के आखिरी मिनट में बेल्जियम को दो पेनॉल्टी कॉर्नर मिले।


a1
यूपी के राज्यपाल राम नाईक और मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने भी हॉकी जूनियर विश्व कप के फाइनल में भारत और बेल्जियम का मैच देखा। मैच की शुरुआत बेल्जियम और भारत का राष्ट्रगान बजाकर किया गया। इसके पहले सीएम अखिलेश ने दोनों टीमों के खिलाड़ियों से हाथ मिलाकर परिचय प्राप्त किया। मैच में भारतीय टीम की 2-1 से हुई जीत पर राज्यपाल और मुख्यमंत्री ने भारतीय टीम को बधाई दी। राज्यपाल ने टीम के सदस्यों को मेडल पहनाकर सम्मानित किया और मुख्यमंत्री ने विजेता टीम को ट्राफी प्रदान की।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top