Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

फ्लाईओवर हादसा: IVRCL कंपनी के 5 अधिकारी हिरासत में लिए गए

 Tahlka News |  2016-04-01 09:19:21.0

a1तहलका न्यूज ब्यूरो
कोलकाता, 1 अप्रैल. कोलकाता में गुरुवार को निर्माणाधीन पुल गिरने से अब तक 24 लोगों की दर्दनाक मौत हो चुकी है जबकि 80 लोग घायल बताए जा रहे हैं. हादसे में करीब 150 लोगों के मलबे में दबे होने की आशंका जताई जा रही थी. राहत और बचाव कार्य के लिए मौके पर एनडीआरएफ की 10 टीमें, सेना के जवान और तमाम एजेंसियां जुटी हुईं हैं. लापरवाही बरतने के आरोप में अब तक निर्माण कंपनी IVRCL के पांच अधिकारियों को हिरासत में लिया गया है.

एनडीआरएफ के डीआईजी एसएस गुलेरिया ने कहा कि ऑपरेशन रात भर चला है. अब तक 24 लोगों के मरने की पुष्टि हुई है. फिलहाल मलबा हटाने का काम जारी है.उन्होंने कहा कि मलबे में दबे लोगों के बचने की संभावना कम है.


'सब भगवान की मर्जी'
इस बीच, पुल बनाने वाली कंपनी IVRCL ने अधिकारी का चौंकाने वाला बयान सामने आया है. कंपनी के अधिकारी से जब लापरवाही की बात पूछी गई तो उन्होंने कहा कि हम 27 साल से इस काम में हैं और ऐसा कभी नहीं हुआ. सब भगवान की मर्जी है.

राजनीतिक सरगर्मी तेज
कोलकाता में फ्लाईओवर हादसे को लेकर राजनीतिक सरगर्मी तेज होती जा रही है. बीजेपी ने हादसे को जहां ममता सरकार के भ्रष्टाचार की पोल खुलना बताया है तो वहीं टीएमसी ने भी बीजेपी पर पलटवार किया है और ओछी राजनीति न करने की सलाह दी है. घटना को लेकर टीएमसी सांसद डेरेक ओ ब्रायन ने कहा कि चुनावी माहौल देखकर बीजेपी गंदी राजनीति कर रही है. उन्होंने कहा, 'राज्य के निवेदन पर सेना राहत-बचाव कार्य के लिए आई है. सेना देश से जुड़ी है, बीजेपी से नहीं.

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top