Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

विदेशी बच्चो ने राज्यपाल से मुलाक़ात की

 shabahat |  2017-01-10 13:47:06.0



लखनऊ. उत्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक से आज राजभवन में भारत सहित ब्राजील, कनाडा, जापान, नार्वे, स्वीडन तथा युनाईटेड किंगडम के बच्चों ने भेंट की. सिटी मान्टेसरी स्कूल, लखनऊ द्वारा आयोजित 28 दिसम्बर, 2016 से 24 जनवरी, 2017 तक चलने वाले ‘23वें चिल्ड्रेन इंटरनेशनल समर विलेज’ में प्रतिभाग करने के लिये 11 से 15 वर्ष आयु वर्ग के 45 बच्चें विभिन्न देशों से आये हैं. इस अवसर पर सिटी मान्टेसरी स्कूल के संस्थापक जगदीश गांधी व उनके सहयोगी शिक्षकगण भी उपस्थित थे.


राज्यपाल ने विदेश से आये बच्चों का स्वागत करते हुये कहा कि उनका पहला धर्म गंभीरता से विद्या अर्जित करना है. पढ़ाई के साथ-साथ अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखते हुये अन्य गतिविधियों में भी प्रतिभाग करें. उन्होंने कहा कि ज्ञान अर्जित करना सबसे बड़ा अनुभव है.
श्री नाईक ने बच्चों को व्यक्तित्व विकास के चार मंत्र देते हुये कहा कि सदैव प्रसन्नचित रह कर मुस्कराते रहें, दूसरों के अच्छे गुणों की प्रशंसा करें और अच्छे गुणों को आत्मसात करने की कोशिश करें, दूसरों को छोटा न दिखाये तथा हर काम को और बेहतर ढंग से करने का प्रयास करें. उन्होंने कहा कि मुस्कान मैत्री भाव को बढ़ाती है.

राज्यपाल ने भारत देश की विशेषता बताते हुये कहा कि भारत एक विशाल देश है और भारतीय संस्कृति ‘वसुधैव कुटुम्बकम्’ अर्थात पूरा विश्व एक परिवार है, में विश्वास करती है. सारे मानव ईश्वर की रचना हैं. उन्होंने बच्चों को लखनऊ की विशेषता और ऐतिहासिक ईमारतों के साथ-साथ अपने बचपन और विद्यार्थी जीवन के बारे में भी बताया. इस अवसर पर विदेश से आये बच्चों ने राजभवन का भ्रमण भी किया.

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top