Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

भोपाल जेल के बारे में पूर्व आईजी ने कर दिया था चौंकाने वाला खुलासा

 Anurag Tiwari |  2016-11-02 07:13:24.0

IG Jail, GK Agrawal, Bhopal, SIMI, Terrorist, Encounter

तहलका न्यूज ब्यूरो

भोपाल. सेंट्रल जेल से सिमी के आठ आतंकियों के फरार होने और कुछ ही घंटे बाद उनके एनकाउंटर के चलते एमपी सरकार और भोपाल जेल प्रशासन दोनों सवालों के घेरे में हैं.

राज्य मानवाधिकार आयोग ने राज्य सरकार और जेल प्रशासन से 15 दिनों में रिपोर्ट मांगी है. इसी बीच एक पूर्व आईजी ने इस सेंट्रल जेल के बारे में चौनाकने वाला नया खुलासा किया है.

पूर्व आईजी  जेल जीके अग्रवाल ने दो साल पहले ही राज्य सरकार को एक रिपोर्ट भेजकर इस जेल में सुरक्षा में कमियों के बारे बता दिया था. लेकिन उनकी यह चिट्ठी ठंडे बसते में डाल दी गई और दिवाली की रात आठ आतंकी बड़े ही नाटकीय ढंग से जेल से फरार हो गए.

आईजी ने जेल की लचर सुरक्षा व्यवस्था और वहां काम करने वाले कर्मचारियों की दयनीय हालत के बारे में खुलकर लिखा था.


भोपाल जेल के आईजी  रह चुके जीके अग्रवाल ने साल 2014 में ने राज्य के चीफ सेक्रेटरी अंथोनी देसा को भेजी रिपोर्ट में साफ़-साफ लिख दिया था कि भगवान एक बार मदद करता है बार बार नहीं.

रिपोर्ट देने वाले जीके अग्रवाल अब ने दावा किया है कि भोपाल सेंट्रल जेल की लचर सुरक्षा व्यवस्था के बारे में एनएसए अजीत डोभाल और आईबी को भी जानकारी थी. अग्रवाल ने ये चिट्ठी 30 सितंबर 2013 को खंडवा जेल से 6 सिमी के आतंकियों के भागने के बाद लिखी थी.

अग्रवाल का यह भी आरोप है कि उन्होंने राज्या सरकार के अधिकारियों से इस सिलसिले में मीटिंग करने के लिए भी एप्रोच भी किया था, लेकिन उन्हें कोई रिस्पांस नहीं मिला. जी के अग्रवाल का दावा है कि भोपाल सेंट्रल जेल में उसकी क्षमता के अनुसार कर्मचारियों नहीं तैनात हैं.

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top