Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

कर्नाटक के पूर्व सीएम येदियुरप्पा माइनिंग केस में 40 करोड़ की रिश्वत के आरोपों से बरी

 Abhishek Tripathi |  2016-10-26 07:14:28.0

yedurappaतहलका न्यूज ब्यूरो
बेंगलुरु. कर्नाटक के पूर्व CM बीएस येदियुरप्पा को सीबीआई की विशेष अदालत से बड़ी रहत मिली है। अदालत ने उन्हें और उनके परिवार के सभी लोगों को माइनिंग केस में 40 करोड़ रूपए कथित रूप से रिश्वत के तौर पर लेने के आरोप से बरी कर दिया है.।

दरअसल ये पूरा मामला उस समय का है जब बीएस येदियुरप्पा कर्नाटक के मुख्यमंत्री थे। मामले में येदियुरप्पा के साथ उनके दोनों बेटे और दामाद भी आरोपी बनाये गए थे। कर्नाटक के पूर्व लोकायुक्त जस्टिस संतोष हेगड़े ने अपनी रिपोर्ट में कहा था कि नवीन जिंदल के ग्रुप से जुड़ी स्टील कंपनी ने खदानों के ठेके लेने के लिए 40 करोड़ की रिश्वत दी थी।

क्या कहती है लोकायुक्त की रिपोर्ट
लोकायुक्त की रिपोर्ट के अनुसार, जिंदल ग्रुप ने येदियुरप्पा के परिवार के स्वामित्व वाली कंपनी से 1.2 एकड़ जमीन खरीदी थी। जिसके लिए जिंदल ग्रुप ने 20 करोड़ की रकम चुकाई थी जो की इस जमीन के मूल्य से बहुत अधिक थी।

216 लोगों ने दी गवाही
इसी मामले में जिंदल ग्रुप ने प्रेरणा एजुकेशन ट्रस्ट को 10 करोड़ का डोनेशन दिया था। ये एजुकेशन ट्रस्ट भी येदियुरप्पा के परिवार के लोग ही चलाते थे। 216 लोगों की गवाही के बाद सीबीआई की विशेष अदालत ने आज येदियुरप्पा के हक में फैसला सुनाया।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top