Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

देखें वीडियो: 30 किलो गोमांस रखने के आरोप में हिंदू दल के लोगों ने दो मुस्लिम महिलाओं को पीटा

 Abhishek Tripathi |  2016-07-27 07:03:37.0

muslim_womenतहलका न्यूज ब्यूरो
भोपाल. मध्य प्रदेश के मंदसौर में बीफ के शक में अल्पसंख्यक समुदाय की दो महिलाओं की पिटाई का मामला आज संसद में भी गूंजा। राज्यसभा में कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा कि गौरक्षा की आड़ में किसी खास धर्म को निशाना बना सही नहीं है। वहीं खबर ये भी कि जिन महिलाओं की पिटाई की गई, उन महिलाएं के पास गोमांस था ही नहीं। मामला सामने आने के बाद अब पुलिस अपने बचाव में ये कह रही है कि उनके पास न तो पिटाई की सूचना है और ना ही महिलाओं ने पिटाई की शिकायत की है।


संसद में संसद में भी यह मामला गूंजा। राज्यसभा में गुलाम नबी आजाद ने कहा, हम गौरक्षा के खिलाफ नहीं है। हम कहते हैं कि गौरक्षा होनी चाहिए लेकिन गौरक्षा की आड़ में दलितों और मुसलमानों को निशाने पर लिया जाए, ये हमें मंजूर नहीं।


https://www.youtube.com/watch?v=ZeTLpLYCRDI

गौरतलब है कि मंदसौर स्टेशन पर दो महिलाओं की कथित हिंदू संगठन के कार्यकर्ता ने पिटाई कर दी थी। इन महिलाओं की पिटाई उनके पास गोमांस होने के शक में की गई थी। बाद में पुलिस ने इन्हें गिरफ्तार कर लिया। इन महिलाओं के पास 30 किलो मांस था, जिसके बारे में कहा गया कि ये गोमांस है, लेकिन अब जांच में पाया गया कि ये गोमांस नही था।


मंदसौर के टीआई शहर कोतवाली, एमपी सिंह परिहार ने कहा कि महिलाओं के पास 30 किलो मांस पाया गया, जो जांच में बफेलो का पाया गया। इस मामले में, धारा 4,5,6 (गोवंश वध अधिनियम) के तहत 2 गिरफ्तारी हुई हैं। आरोप है कि दो महिलाएं एक झोले में करीब 30 किलो मांस लेकर डेमो ट्रेन से मंदसौर स्टेश पर उतरी ही थीं वहीं हिंदू दल के कार्यकर्ताओं ने इन्हें घेर लिया और महिला कार्यकर्ताओं ने इनकी पिटाई शुरू कर दी। पीड़ित महिलाओं में से एक के हाथ में पहले से ही प्लास्टर चढ़ा था, इसके बावजूद उसकी पिटाई की गई।

Video Credit: ANI

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top