Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

तो इस फार्मूले से भ्रष्ट बैंककर्मियों ने किया खेल, काले पैसे को कर दिया सफ़ेद

 Tahlka News |  2016-12-08 13:49:07.0

black-jaoos

तहलका न्यूज ब्यूरो

लखनऊ. देश भर के 50 बैंको में पड़े ED के छापे के बाद बैंक कर्मियों द्वारा काले पैसे को सफ़ेद करने के बड़े रैकेट का खुलासा हुआ है. लखनऊ में भी 4 बैंको की 10 शाखाओं में ED ने छापेमारी की, और जो खुलासा हुआ है उसने सबके होश उड़ा दिए हैं. सूत्रों के मुताबिक आईबी ने यूपी के 1325 ऐसे बैंक चिन्‍हित किए हैं जिन्होंने नियमों से परे जाकर पुराने नोटों को नए नोटों में बदला है.

सूत्रों के अनुसार रुपये के बदलने में जिस ID का इस्तेमाल किया गया उसके मालिक को पता ही नहीं कि उसके ID पर हजारो का काला धन सफ़ेद किया जा चुका है.


अब तक की जांच में पता चला है कि एक ही आईडी से एक ही व्‍यक्‍ति को कई-कई बार पुराने के बदले नए नोट दिए गए. मगर जब इस बात की पड़ताल की गयी कि बड़ी संख्या में ID मिले कैसे तब असल खेल समझ में आया.

IB से जुड़े एक अधिकारी ने बताया कि भ्रष्ट बैंक कर्मियों ने यह ID मोबाईल सिम का कारोबार करने वालों से खरीदे. इसके अलावा कई कालेजो से भी छात्र छात्राओं की ID खरीदी गयी. इन ID को खरीदने के लिए 300 से 500 की दर से भुगतान किया गया. इसके बाद 20 से 30 प्रतिशत का कमीशन ले कर पैसे बदल दिए गए.

मोबाईल आउट लेट चलाने वाले एक शख्स ने नाम का खुलासा न करने की शर्त पर बताया कि जो ग्राहक सिम कार्ड खरीदने आता है उसकी ID ले ली जाती है और आम तौर पर यह ID दूकानदार के पास पड़ी ही रहती है. सामान्यतः किसी भी अच्छे आउटलेट पर 1500 से 2000 तक ऐसी ID रहती ही हैं. जब कुछ बैंक कर्मियों ने उनसे कुछ ID मांगी तब यह खेल समझ में आ गया और फिर मोबाईल आउटलेट वालो ने भी जम कर माल काटा.

इसके साथ ही स्कूल कालेजो के पास भी छात्र छात्राओं की ID रहती है जिसका इस्तेमाल छात्रवृत्ति के खाते खुलवाने के अलावा भी किया जाता है. ऐसे स्कूलों से भी थोक मात्र में ID खरीदी गयी और 9 नवम्बर से ले कर 15 नवम्बर के बीच हर ID पर कई कई बार पैसे बदले गए. इस खेल में कई नामी प्राईवेट और डीम्ड यूनिवर्सिटी और कॉलेज संचालकों ने भी अपना काला धन को सफेद कर लिया.

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top