Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

मुझे अपने दम पर कामयाबी मिली है: आरती सिंह

 Girish Tiwari |  2016-09-27 03:46:50.0

arti_singh
नई दिल्ली:
 टेलीविजन चैनल एंड टीवी पर प्रसारित हो रहे लोकप्रिय धारावाहिक 'वारिस' में अंबा का किरदार निभा रहीं छोटी पर्दे की मशहूर अभिनेत्री आरती सिंह के लिए छोटा या बड़ा पर्दा मायने नहीं रखता, उन्हें बस दमदार किरदार निभाना पसंद है। फिल्मी परिवार से ताल्लुक रखने वाली आरती का कहना है कि उन्होंने अपने दम पर सफलता हासिल की है।


आरती को कलर्स चैनल पर 2010 में आए धारावाहिक 'थोड़ा है बस थोड़े की जरूरत है' के मुग्धा कुलकर्णी और 2011 के धारावाहिक 'परिचय' में निभाए गए सीमा चोपड़ा के किरदार ने घर-घर में प्रसिद्ध कर दिया था।


आईएएनएस के साथ एक खास बातचीत में आरती से जब पूछा गया कि डेली सोप 'वारिस' के अंबा के किरदार से जुड़ने की क्या वजह रही तो उन्होंने बताया, "इस धारावाहिक की सबसे खास बात इसका मुद्दा है, जिसने मुझे सबसे अधिक प्रभावित किया। पंजाब की पृष्ठभूमि पर आधारित इस धारावाहिक में मैं एक ऐसी मां का किरदार निभा रही हूं, जो समाज की रूढ़िवादी सोच के कारण अपनी बेटी की बेटे के रूप में परवरिश करती है।"


उन्होंने बताया, "इस धारावाहिक के प्रत्येक दृश्य में मुझे दमदार अभिनय प्रदर्शित करना होता है। एक कलाकार के तौर पर इस धारावाहिक में मैं जो काम कर रही हूं वह मेरे लिए काफी संतुष्टि भरा है। हमेशा से ही मुझे दमदार किरदारों की तलाश रही है, और जब मुझे इस धारावाहिक का प्रस्ताव मिला, तो मैंने इसमें काम करने का इरादा बना लिया।"


आरती ने 2007 में जी टीवी पर प्रसारित होने वाले डेली सोप 'मायका' से सोनी के किरदार के रूप में छोटे पर्दे पर डेब्यू किया था। इसके बाद 2008 में आए धारावाहिक 'गृहस्थी' में रानो, 'थोड़ा है बस थोड़े की जरूरत है' के मुग्धा और धारावाहिक 'परिचय' में सीमा के किरदार ने आरती को छोटे पर्दे पर बड़ी पहचान दिलाई।


वारिस में अंबा अपनी बेटी की समाज से छुपते-छुपाते एक बेटे की रूप में परवरिश करती हैं। आरती से जब पूछा गया कि एक बेहद खास मुद्दे पर आधारित यह कार्यक्रम समाज में क्या बदलाव ला सकता है इस पर उन्होंने बताया, "इस धारावाहिक की पटकथा समाज की उस सोच पर वार करती है, जो लड़कों को लड़कियों से ज्यादा महत्वपूर्ण समझते हैं। इसमें एक महिला की कहानी दिखाई गई जो अपने परिवार, रिश्तेदार और आसपास के माहौल के कारण इतना बड़ा कदम उठाती है। "


आरती आगे कहती हैं, "यह केवल एक शहर या तबके को नहीं, बल्कि पूरी दुनिया की हकीकत बयां करती है, जो हर हाल में संतान के रूप में बेटे की चाह रखते हैं। हमारा धारावाहिक अगर ऐसे सैकड़ों लोगों में कुछ लोगों को भी प्रभावित करता है, उन्हें सोचने पर मजबूर करता है कि बेटियां भी बेटों के समान होती हैं, और कुछ मायनों में उनसे बढ़कर होती है, तो हमारी कोशिश सफल हो जाएगी।"


आरती ने अपने करियर में कई भूमिकाएं निभाईं हैं, वह इस किरदार से अपने आपको किस हद तक करीब पाती हैं, यह पूछे जाने पर उन्होंने कहा, "इस किरदार से मैं बहुत अधिक करीब हूं। अंबा के किरदार को मैंने बनाया है। मेरे जीवन में फिलहाल अंबा से महत्वपूर्ण कुछ और नहीं है।"


छोटे पर्दे पर अपनी अलग मौजूदगी दर्ज करने वाली आरती का नाता बॉलीवुड से भी है, वह दिग्गज अभिनेता गोविंदा की भांजी हैं और छोटे पर्दे के जाने-माने हास्य अभिनेता कृष्णा और रागिनी की चचेरी बहन हैं।


आरती कहती हैं, "मेरे परिवार के सभी लोग अपने-अपने क्षेत्रों में स्थापित हैं, लेकिन मुझे अभिनय की दुनिया में स्थापित होने के लिए कड़ी मेहनत करनी पड़ीं। मेरी सफलता के पीछे मेरी मेहनत है, किसी की सहानुभूति या सिफारिश नहीं। फिल्मी परिवार से ताल्लुक रखने के बाद भी मैंने घंटों धूप में खड़े होकर ऑडिशन दिए। मुझे अपने दम पर कमयाबी मिली है।"


धारावाहिकों और फिल्मी कलाकारों का रुझान इन दिनों रियलिटी शो की ओर काफी बढ़ रहा है। छोटे पर्दे का लगभग हर अभिनेता और अभिनेत्री विभिन्न प्रकार के रियलिटी शो में अपना दमखम दिखा रहे हैं।


डेली सोप के अलावा किसी रियलिटी शो या फिल्म की योजना बना रही हैं, यह पूछे जाने पर आरती ने कहा, "मुझे डांस करना काफी पसंद है और मैं अपने आपको इससे काफी जुड़ा महसूस करती हूं। डांस मेरे खून में है अगर ऐसा कोई शो मिलता है, तो मैं उसे जरूर करना चाहूंगी, लेकिन फिलहाल मेरी किसी रियलिटी शो में जाने की कोई योजना नहीं है।"

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top