Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

बुलंदशहर गैंगरेप: IG सुजीत पांडेय ने की बड़ी गलती, पीड़ित परिवार के सदस्यों को सार्वजनिक किया

 Abhishek Tripathi |  2016-08-09 07:59:27.0

Sujeet_pandeyतहलका न्यूज ब्यूरो
मेरठ. बुलंदशहर गैंगरेप मामले में यूपी पुलिस ने मुख्य आरोपी सलीम बावरिया समेत तीन अन्य आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। आईजी जोन मेरठ सुजीत पांडेय मंगलवार को मामले में मीडिया को संबोधित कर रहे थे। इस दौरान सुजीत पांडेय ने सुप्रीम कोर्ट के आदेश का उल्लंघन करते हुए पीडि़त परिवार के सदस्यों को कैमरे के सामने पेश कर दिया और उनके नामों का भी खुलासा कर दिया। इस गलती पर जब मीडिया ने सुजीत पांडेय से सवाल पूछा तो उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश के मुताबिक, पीडित का नाम नहीं सार्वजनिक करना चाहिए जबकि पीडित परिवार के सदस्यों का नाम बताया जा सकता है।


मेरठ जोन के आईजी सुजीत पांडेय का दावा है कि पकड़े गए तीनों आरोपी छैमार-बावरिया गिरोह के सदस्य हैं। मुख्य आरोपी सलीम सहारनपुर का रहने वाला है। पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक पकड़े गए आरोपियों में दो की पहचान सलीम और जुबैर के रूप में की गई है। गिरफ्तार किए गए तीसरे आरोपी की शिनाख्त की कोशिश की जा रही है।


क्या है पूरा मामला
29 जुलाई की देर रात दो बड़े भाई शनिवार रात को मां की तेहरवीं करने घर जा रहे थे। एसेंट कार में दोनों भाई, दोनों की पत्नी और बड़े भाई का बेटा और और छोटे भाई की नाबालिग बेटी थी। दर्जनभर बदमाशों ने हथियार के बल पर गाड़ी पर लोहे की भारी चीज फेंककर भ्रम फैलाया कि गाड़ी में कोई खराबी आ गई है। जब गाड़ी रुकी, तो बदमाशों ने पहले तो लूटपाट की और बाद में गाड़ी में मौजूद मां और उसकी 11 साल की बेटी को बुलंदशहर हाइवे से खींचकर खेतों में ले गए और उनका गैंगरेप किया। हैरानी की बात ये है कि घटनास्थल से पुलिस चौकी कुछ ही दूरी पर थी।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top