Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

हे प्रभु! काश पैसेंजर की बात लेते मान, न जाती इतने निर्दोषों की जान

 Anurag Tiwari |  2016-11-20 08:51:02.0

kanpur accident, Pukhrayan,   Train Accident ,  train accident today ,  train accident in india ,  train accident 2016 ,  indore patna train accident ,  patna indore train acciden


तहलका न्यूज ब्यूरो

लखनऊ. कानपुर के पुखरायां में हुए इंदौर-पटना एक्सप्रेस हादसे में चौंकाने वाला खुलासा हुआ है. रेलवे अधिकारीयों ने एक पैसेंजार की शिकायत को अनसुना कर हजारों लोगों की जान दांव पर लगा दी. इसी का नतीजा है कि 100 से अधिक लोग मौत के मुंह में समा गए.

घायल यात्रियों ने बताया कि हादसे में सबसे पहले पटना-इंदौर एक्सप्रेस की एस-1 बोगी ही पटरी से उतरी. बताया जा रहा है कि इस बोगी में ट्रेवल कर रहे एक पैसेंजर ने लग रहे तेज झटकों के चलते झांसी स्टेशन पर शिकायत दर्ज कराई थी.

लेकिन चलता है कि बीमारी से ग्रस्त न तो स्टेशन मास्टर ने और न ही गार्ड ने इस पर ध्यान दिया. ट्रेन को झांसी से बिना जांच के रवाना कर दिया गुआ और नतीजा बडे़ हादसे के रूप में सामने आया. काश कि रेलवे पैस्नेजर की की शिकायत सुनकर तत्काल बोगी की मरम्मत करवा देता या कोई वैकल्पिक व्यवस्था कर देता तो यह एक्सीडेंट न होता.

कानपुर देहात के भोगनीपुर के पास इंदोर-पटना एक्सप्रेस (19321) के 14 डिब्बे पटरी से उतर गए. डिब्बे उतरने से ट्रेन पलट गई. आज सुबह तीन बजकर 10 मिनट पर यह हादसा हुआ.

ट्रेन इंदौर से पटना जा रही थी. हादसे में कई यात्रियों के मौत की आशंका है. यह घटना इंदौर-झांसी-कानपुर रेलमार्ग पर हुई. हादसे में लगभग 100 लोगों के मरने की खबर है. और 154 घायल हुए हैं, मरने वालों की संख्या ज्यादा भी हो सकती है. मृतकों के सही संख्या की जानकारी अभी नहीं है.

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top