Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

अच्छे संस्कार के लिये पाठशाला एवं शिक्षकों की भूमिका महत्वपूर्ण

 Sabahat Vijeta |  2016-11-28 15:55:57.0

gov-std


लखनऊ. उत्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक ने आज बक्शी का तालाब, सीतापुर रोड, लखनऊ स्थित एस.आर. ग्लोबल स्कूल द्वारा आयोजित वार्षिक समारोह में अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि शिक्षक द्वारा दी गई शिक्षा पर बच्चे का विकास निर्भर करता है. शिक्षक का पेशा केवल वेतन के लिये नहीं बल्कि अच्छी शिक्षा के लिये चुनें. अच्छी शिक्षा देकर देश के भविष्य का निर्माण करना शिक्षकों के हाथ में होता है. बच्चे कच्ची मिट्टी जैसे हैं उन्हें अच्छे नागरिक बनाने का कार्य शिक्षक कर सकते हैं. व्यक्ति का विकास शिक्षा के आधार पर होता है इसलिये गुणवत्तापूर्ण शिक्षा मिलनी चाहिए. उन्होंने कहा कि बच्चों में अच्छे संस्कार के लिये पाठशाला एवं शिक्षकों की भूमिका महत्वपूर्ण होती है.


श्री नाईक ने विद्यार्थियों को सम्बोधित करते हुए कहा कि विद्यार्थियों का धर्म शिक्षा ग्रहण करना है. अच्छी शिक्षा ग्रहण करने वाले ही आगे बढ़ते हैं. बेटे एवं बेटियों को समान शिक्षा का अवसर मिले. बच्चे केवल किताबी कीड़े न बनकर अपने स्वास्थ्य एवं व्यक्तित्व विकास पर भी ध्यान दें. स्वयं में सद्गुणों का विकास करें. राज्यपाल ने व्यक्तित्व विकास के चार मंत्र बताते हुए कहा कि सदैव प्रसन्नचित रह कर मुस्कराते रहें. दूसरों के अच्छे गुणों की प्रशंसा करें और अच्छे गुणों को आत्मसात करने की कोशिश करें, दूसरों को छोटा न दिखाये तथा हर काम को और बेहतर ढंग से करने का प्रयास करें. उन्होंने कहा कि छोटी-छोटी बातें आगे चलकर बड़ी सीख देती हैं.


राज्यपाल ने कहा कि अपना देश 1947 में आजाद हुआ तथा 1950 में हमारे देश में गणतंत्र स्वीकार किया गया. डाक्टर अम्बेडकर के नेतृत्व में देश के संविधान का निर्माण हुआ. देश की आजादी के लिये अनेक क्रांतिकारियों ने अपने प्राणों का बलिदान दिया. अंग्रेजों का मानना था कि हम देश नहीं चला पायेंगे. अब हमें यह सोचना होगा कि हम स्वराज्य को सुराज में कैसे परिवर्तित करें. बच्चों में ज्ञान के साथ-साथ हमें चरित्र निर्माण पर भी जोर देना चाहिए. उन्होंने कहा कि देश का भविष्य अच्छी शिक्षा, अच्छे स्वास्थ्य और अच्छे चरित्र के निर्माण पर आधारित है.


श्री नाईक ने इस अवसर पर विद्यालय के नये भवन तथा पत्रिका का लोकार्पण किया और एस.आर. ग्रुप इंजीनियरिंग, आईटी और प्रबन्धन में उत्कृष्ट स्थान प्राप्त करने वाले छात्र-छात्राओं एवं सामाजिक सेवा करने वाले चुनंदा महानुभावों को भी सम्मानित किया. समारोह में पवन कुमार सिंह चौहान, अध्यक्ष, एस.आर. ग्रुप ने स्वागत उद्बोधन दिया तथा प्रधानाचार्य सी.के. ओझा ने वार्षिक रिपोर्ट प्रस्तुत की.

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top