Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

भारतीय वायु सेना में दिखा चीन का लड़ाकू विमान

 Vikas Tiwari |  2016-09-02 14:05:09.0

अरुणाचल प्रदेश  नई दिल्ली : भारत और चीन के आपसी सम्बन्ध बिगड़ते ही जा रहे है. चीन भारत के लिए आपनी नापाक हरकते करने से नहीं बाज आ रहा है. भारत के अरुणाचल प्रदेश में अपनी सीमाओं की सुरक्षा के लिए ब्रह्मोस मिसाइल की तैनाती करने की बात का जवाब देते हुए चीन ने आपने ख़ुफ़िया लड़ाकू विमान को जिसे काफी दिनों से छुपा कर रखा था उसे तिब्बत में दाओचेंग येडिंग एयरपोर्ट पर देखा गया है.

इससे पहले चीन ने भारत के ब्रह्मोस मिसाइल की तैनाती का विरोध किया था और भारत ने अपनी सीमाओं की सुरक्षा के लिए हर संभव कदम उठाने की आजादी की बात कही थी. भारत के पास अभी तक जे 20 कैटेगरी का लड़ाकू विमान नहीं है.

मारक क्षमता 290 किलोमीटर की दूरी से ज्यादा है

दाओचेंग येडिंग एयरपोर्ट दुनिया का सबसे ऊँचा सिविलयन एयरपोर्ट है. यह समुद्र तल से 14000 फीट की ऊंचाई पर स्थित है.

ब्रह्मोस मिसाइल की जमीन और समुद्र में मारक क्षमता 290 किलोमीटर की दूरी से ज्यादा है.

वियतनाम दौरे पर प्रधानमंत्री मोदी शनिवार को ब्रह्मोस मिसाइल पर बात करने वाले हैं.

यह विमान साधारण से है भिन्न...

चीन का चेंगदू जे 20 लड़ाकू विमान दो इंजन वाला है और इसके कुछ ऐसे फीचर हैं, जिसकी वजह से यह रेडार की पकड़ में नहीं आता है. यह खासियत इसे अन्य लड़ाकू विमानों से अलग करती है.

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top