Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

मदर्स दे पर अखिलेश का नायाब तोहफा, बच्चों के लिए कैंसर वार्ड

 Tahlka News |  2016-05-08 06:57:36.0


akh-kgmuतहलका न्यूज ब्यूरो


लखनऊ. सीएम अखिलेश यादव ने केजीएमयू में पीडियाट्रिक ओन्कोलॉजी वार्ड का रविवार को उद्घाटन किया। ये वार्ड बाल रोग विभाग के थर्ड फ्लोर पर बनाया गया है। 50 बेड वाला ये वार्ड मॉर्डन मेडिकल फैसिलिटीज से लैस है। हर बेड पर ऑक्सीजन की अवैलिबिलिटी है और पूरे वार्ड में एसी है। इस दौरान सीएम अखिलेश यादव ने कहा कि उत्तर प्रदेश के सभी मेडिकल कॉलेजों के निजाम एक जैसे किए जायेंगे। सभी जगह एक जैसी सुविधा का प्रावधान किया जाएगा। केजीएमयू में भी संजय गांधी स्नातकोत्तर आयुर्विज्ञान संस्थान के बराबर सुविधाएं देंगे।


akh-kgmu-2सीएम अखिलेश यादव ने कहा कि केजीएमयू में कैंसर पीड़ित बच्चो का नए वार्ड में इलाज होगा। केजीएमयू में सुविधाओं को विश्वस्तरीय बनाया गया है। केजीएमयू का नाम पूरी दुनिया मे जाना जाता है। 
हालांकि, जगह उतनी नहीं है, जितनी होनी चाहिए, केजीएमयू में और बिल्डिंग बनाने की जरुरत है। उन्होंने कहा कि अब इस विश्वविद्यालय को मल्टी स्टोरी बनाना होगा. मुख्यमंत्री ने कहा कि मदर्स डे पर माँ को इससे बेहतर तोहफा कोई और नहीं हो सकता कि उसके बच्चों का बेहतर इलाज हो जाय.



akh-kgmu-3उन्होंने कहा कि गरीबों के इलाज के लिए सपा सरकार लगातार व्यवस्था कर रही है। गांवो को शहरों से जोड़ा जा रहा है। मेट्रो का काम बहुत तेजी से किया जा रहा है। चीनी और दूध उत्पादन में यूपी नंबर 1 है। चीनी मिलों को बिकने से रोका है। साथ ही चीनी का भाव बाजार में नियंत्रित किया है। किसानों के लिए हमने मंडी बनाई, मंडी से किसानों को लाभ होगा। यूपी में एक्सप्रेस-वे हम बना रहे हैं। गांवों को शहरों से जोड़ा जा रहा है। एक्सप्रेस-वे से किसानों को लाभ होगा। प्रदेश की आबादी कई मुल्कों से ज्यादा है, आबादी के हिसाब से संसाधन बढ़ाने होंगे। इस दौरान सीएम ने बीजेपी पर जमकर हमला बोला और तंज कसते हुए कहा कि ट्रेन से गांव में कैसे पानी भेजेंगे। गांव में टैंकरों से पानी भेजा जाएगा।

akh-kgmu-4श्री यादव ने कहा कि प्रदेश में अनेक मेडिकल काॅलेजों के साथ-साथ सुपर स्पेशियलिटी अस्पतालों सहित नवीन उच्चीकृत चिकित्सा इकाइयों की भी स्थापना करायी जा रही है। कैंसर जैसे दुःसाध्य रोग से निपटने के लिए लखनऊ में एक उच्चस्तरीय कैंसर संस्थान की भी स्थापना की जा रही है, ताकि प्रदेश के कैंसर मरीजों को राज्य में ही इलाज की अच्छी सुविधा मिल सके। उन्होंने कहा कि पिछले चार साल में 11 मेडिकल काॅलेजों की स्थापना की गई है। डाॅक्टरों की कमी से निपटने के लिए राज्य के सरकारी मेडिकल काॅलेजों में लगभग 1,000 मेडिकल सीटों का इजाफा किया गया है। प्रदेश की स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर बनाने के मद्देनजर राज्य सरकार इस बात का भी प्रयास कर रही है कि गांवों के लोगों को प्रशिक्षित कर नर्सों की कमी को पूरा किया जा सके।

प्रदेश की समाजवादी सरकार द्वारा राज्य के विकास के लिए किए जा रहे कार्यों पर प्रकाश डालते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि लखनऊ मेट्रो, आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे, समाजवादी पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे, सीजी सिटी, आईटी सिटी, कैंसर हाॅस्पिटल इत्यादि की स्थापना से उत्तर प्रदेश के विकास को अभूतपूर्व गति मिलेगी। उन्होंने कहा कि इन योजनाओं के पूर्ण हो जाने के उपरान्त प्रदेश बहुत तेजी से विकास के पथ पर आगे बढ़ेगा। उन्होंने कहा कि आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे के लिए जरूरी जमीन का अधिग्रहण किसानों की सहमति से बिना किसी विवाद के किया गया है। राज्य सरकार द्वारा किसानों को चौगुना मुआवजा दिलवाया गया है। अब यह एक्सप्रेस-वे बहुत तेजी से विकसित हो रहा है। इसका लाभ प्रदेश की जनता को तो मिलेगा ही, साथ ही यह किसानों की किस्मत बदल देगा। इस एक्सप्रेस-वे के दोनों ओर मण्डियों की स्थापना की जाएगी, ताकि किसान अपनी उपज तेजी से वहां पर पहुंचा सकें और उन्हें अच्छी आमदनी हो। उन्होंने कहा कि यह एक्सप्रेस-वे उत्तर प्रदेश की लाइफ लाइन साबित होगा।

श्री यादव ने लखनऊ मेट्रो पर बोलते हुए कहा कि यह देश में स्थापित की गई सबसे तेज मेट्रो योजना होगी। इसके संचालन से लोगों को बहुत सुविधा होगी। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार किसानों का भी ध्यान रख रही है। गन्ना किसानों की मदद की जा रही है। चीनी मिलों की भी मदद की जा रही है। चीनी उद्योग की भी सहायता की जा रही है। उन्होंने कहा कि आजमगढ़ में मात्र 9 महीने के अंदर चीनी मिल निर्मित कर चालू करवा दी गई। उन्होंने सूखाग्रस्त क्षेत्रों में पानी पहुंचाने के विषय पर कहा कि इसके लिए ट्रेन नहीं बल्कि टैंकरों की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार सूखाग्रस्त क्षेत्रों के लोगों की समस्याओं के निदान के लिए सारे कदम उठा रही है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार इस बात पर कार्य कर रही है कि प्रदेश के सभी मेडिकल संस्थानों का ढांचा और इंतजाम एक जैसा हो। उन्होंने कहा कि नाॅन टेक्निकल स्टाफ की मांगों पर सहानुभूतिपूर्वक विचार किया जाएगा और उन्हें भी सभी भत्ते दिए जाएंगे।

कार्यक्रम में कन्नौज की सांसद श्रीमती डिम्पल यादव ने कहा कि ‘हेल्पिंग हैण्ड’ ट्रस्ट द्वारा यह एक बेहतरीन पहल है। इसकी स्थापना से कैंसरग्रस्त बच्चों का इलाज अब काफी आसान हो जाएगा और उन्हें सभी सुविधाएं इस वाॅर्ड में उपलब्ध हो सकेंगी। उन्होंने कहा कि ‘मदर्स डे’ पर यह बच्चों के लिए एक शानदार तोहफा है।

कार्यक्रम को प्रमुख सचिव चिकित्सा शिक्षा डाॅ. अनूप चन्द्र पाण्डेय ने भी सम्बोधित किया। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा चिकित्सा सुविधा के क्षेत्र में बड़े पैमाने पर कार्य किया जा रहा है। नोएडा, गोरखपुर, लखनऊ स्थानों में नयी चिकित्सा सुविधाओं, सुपर स्पेशियलिटी हाॅस्पिटल, कैंसर इंस्टीट्यूट की स्थापना के माध्यम से प्रदेश की चिकित्सा सुविधाओं में एक ‘साइलेण्ट मूवमेण्ट’ चल रहा है, जिसका लाभ प्रदेश की जनता को शीघ्र ही मिलने लगेगा। कार्यक्रम को केजीएमयू के कुलपति प्रो. रविकान्त ने भी सम्बोधित किया।

इससे पूर्व मुख्यमंत्री ने पीडियाट्रिक कैंसर वाॅर्ड का उद्घाटन फीता काटकर तथा उद्घाटन पट्टिका का अनावरण कर किया। कार्यक्रम स्थल पहुंचने पर मुख्यमंत्री का स्वागत बुके भेंट कर किया गया। उन्हें एक स्मृति चिन्ह भी भेंट किया गया।

इस अवसर पर प्रमुख सचिव सूचना नवनीत सहगल, शासन-प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी, हेल्पिंग हैण्ड ट्रस्ट की ट्रस्टी सुश्री प्रीति झुनझुनवाला, लक्ष्मी पब्लिक चैरिटेबल ट्रस्ट के ट्रस्टी आदित्य झुनझुनवाला सहित बड़ी संख्या में चिकित्सक, मेडिकल यूनिवर्सिटी के पदाधिकारीगण तथा गणमान्य लोग मौजूद थे।

उल्लेखनीय है कि केजीएमयू में आज जिन 2 नये पीडियाट्रिक कैंसर वाॅर्ड का उद्घाटन किया गया, उनकी स्थापना हेल्पिंग हैण्ड ट्रस्ट द्वारा की गई है। इन वाॅर्ड में 60 बेड उपलब्ध हैं, जिसमें चिकित्सक कक्ष, कीमोथेरेपी कक्ष, आइसोलेशन कक्ष, नर्स स्टेशन, काॅन्फ्रेंस रूम, डे केयर एरिया, प्रसाधन के अलावा बच्चों के खेलने के स्थान का प्राविधान भी किया गया है।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top