Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

जौनपुर का लाल बना इंडियन दिव्यांग CRICKET टीम का कैप्टन

 Tahlka News |  2016-05-11 16:14:37.0

ashishतहलका न्यूज ब्यूरो
जौनपुर. अपनी दिव्यांगता के चलते बचपन में अपमान झेलने वाले जौनपुर के आशीष श्रीवास्तव आज अपने जज्बे और मेहनत से इंडियन दिव्यांग क्रिकेट टीम के कैप्टन बन चुके हैं। लेकिन आशीष के कामयाबी का यह सफर इतना आसान नहीं। दिव्यांगता के साथ-साथ उन्हें बचपन से ही अपने अस्तित्व बनाए रखने के लिए कदम-कदम पर संघर्ष करना पड़ा।

ashish1

बचपन में सुने साथियों के ताने
जौनपुर जिले के जलालपुर के महरेव गाँव के रहने वाले आशीष को पैर में दिव्यांगता के चलते अपमान भी सहना पड़ा था। उनकी माँ करुणा श्रीवास्तव के मुताबिक, जब बचपन में वे आसपास के बच्चों के साथ क्रिकेट खेलना चाहते थे, तो उनके साथी उनका मजाक उड़ा कर उन्हें अपमानित कर देते थे। इसके चलते वे अकसर रोते हुए घर आते थे और उदास रहने लगे।


ashish2


माँ ने दिया बैट-बॉल
करुणा श्रीवास्तव बताती हैं कि बेटे की उदासी देखकर उन्होंने आशीष को एक बैट और बाल खरीदकर दी और घर अंदर ही खेलने को कहा। माँ के इस प्रोत्साहन के बाद धीरे-धीरे आशीष ने घर की चाहरदीवारी से बाहर अपने स्कूल के दोस्तों के साथ क्रिकेट खेलना शुरू कर दिया। स्कूल के दिनों में भी पैर से दिव्यांग होने के बाद भी आशीष की बैटिंग और बालिंग सबसे बेहतर होती थी।

ashish3


रिलेटिव के कहने पर दिया इलाहाबाद में ट्रॉयल
आशीष की माँ बताती है कि उनके बेटे का खेल देखकर उनके एक रिश्तेदार ने इलाहाबाद में होने वाली दिव्यांग खिलाडि़यों के टूर्नामेंट के बारे में बताया। साल 1998 में आशीष ने इलाहाबाद जाकर ट्रायल दिया तो उसका सिलेक्शन कौशाम्बी जिले की टीम में हो गया। इसके बाद साल 2002 में उसने लखनऊ के केडी सिंह बाबू स्टेडियम में इंटर-डिस्ट्रिक्ट टूर्नामेंट में भाग लिया। इस मैच में उनका परफॉरमेंस देखकर सलेक्टर्स ने उसे साल 2004 में यूपी की दिव्यांग टीम में चुन लिया।


राह मिली तो रुके नहीं कदम
साल 2004 में ही राजस्थान के जयपुर में खेले गये चैंपियनशिप में आशीष ने भाग लिया। आशीष ने बताया कि 2007 तक होने वाली सभी मैच उसने कैनवस बाल से खेला। लेकिन साल 2008 में नियम बदलकर लेदर की बाल खेलने से कर दिया गया। साल 2011 में आशीष की मेहनत का फल उन्हें मिला और उनका सिलेक्शन भारत की राष्ट्रीय दिव्यांग टीम में हो गया।


आशीष ने भारत को जिताए कई इंटरनेशनल मैच
- फरवरी 2015 में भारत में हुए एशिया कप में पाकिस्तान, अफगानिस्तान, बंगलादेश और श्रीलंका हराकर हुए एशिया कप पर कब्जा जमा लिया। एशिया कप में
- आशीष ने अपने आलराउंड परफॉरमेंस और कप्तानी से इंडियन टीम को सितम्बर 2015 में भारत श्रीलंका के बीच हुए पांच टेस्ट मैच को 3-2 जीत दिलाई।
- मई 2014 में बैकाक में भारत ने बैकाक को तीनो मैच हरा दिया।
- दिसम्बर 2014 में श्रीलंका में हुए मैच को भारत ने जीता।
- इसके बाद 2015 में ही हैदराबाद में अक्टूबर में हैदराबाद में खेले गए सीएम ट्राफी के फाईनल मैच श्रीलंका ने भारत की हराकर ट्राफी पर कब्जा जमा लिया।
- 2011 और 2013 में हुए इंटरनेशनल क्रिकेट टूर्नामेंट को भारत ने जीता, इसमें भी आशीष की भूमिका अहम रही।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top