Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

J-K: बारामूला में सेना के कैंप पर आतंकी हमला, हमले में 2 आतंकी ढेर, 1 जवान शहीद

 Vikas Tiwari |  2016-10-03 02:49:37.0

ceasefire-violated-by-pak-rangers-near-loc-in-jammu-and-kashmir-akhnoor-sector-620x400
तहलका न्यूज़ ब्यूरों

जम्मू-कश्मीर: पीओके में सर्जिकल स्ट्राइक के चार दिन बाद जम्मू-कश्मीर के बारामूला सेना कैंप पर आतंकी हमला हुआ. इस हमले में दो आतंकी ढेर हो गए. आतंकियों से मुठभेड़ में बीएसएफ का एक जवान शहीद हो गया, जबकि बीएसएफ का एक जवान और सेना के तीन जवान जख्मी हैं. वहीं जानकारी के मुताबिक दो आतंकियों के एक कमरे में छिपे होने की खबर है, जिसे सेना ने घेर लिया है.


सूत्रों के हवाले से खबर है कि मुठभेड़ में घायल एक आतंकी झेलम नदी में कूदकर भाग गया. जम्मू-कश्मीर के बारामूला में सेना की 46 राष्ट्रीय रायफल्स के हेडक्वार्टर पर आतंकवादियों ने रविवार रात हमला किया. आतंकवादियों ने हेडक्वार्टर में घुसने की कोशिश की लेकिन सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में दो आतंकवादी मारे गए. जबकि एक जवान के शहीद होने की खबर है. मुठभेड़ में दो जवान घायल भी हुए हैं.


आतंकवादियों ने हेडक्वार्टर के गेट पर सुरक्षा बलों पर ग्रेनेड फेंके. सेना ने पूरे इलाके की घेराबंदी कर ली है और तलाशी अभियान चलाया जा रहा है. आतंकवादियों ने करीब साढ़े दस बजे हेडक्वार्टर में घुसने की कोशिश की. इस दौरान सुरक्षा बलों और आतंकवादियों के बीच करीब एक घंटे तक भीषण गोलीबारी हुई. मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक आतंकियों ने दो गुटों में हेडक्वार्टर पर हमला किया.


आतंकियों ने हेडक्वार्टर में दाखिल होने के लिए गेट पर ग्रेनेड फेंके लेकिन अपने मंसूबों में कामयाब नहीं हो पाए. जवानों ने दो आतंकवादियों को बाहर ही मार गिराया.रिपोर्टों के अनुसार हेडक्वार्टर में किसी तरह के नुकसान होने की खबर नहीं है. हेडक्वार्टर में आतंकियों के घुसने की कोशिश नाकाम कर दी गई. घटनास्थल पर त्वरित प्रतिक्रिया दल पहुंच गया है. सेना पूरे इलाके का घेराबंदी कर तलाशी अभियान चला रही है.


सेना ने कहा कि स्थिति नियंत्रण में कर ली गई है.हमले के बाद गृह मंत्री राजनाथ सिंह और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोवाल ने इस हमले की जानकारी ली है.46 राष्ट्रीय रायफल्स का हेडक्वार्टर बारामूला से हंदवाड़ा के रास्ते पर स्थित है. सर्जिकल स्ट्राइक के बाद यह कश्मीर में पहला बड़ा आतंकी हमला है. कश्मीर में राष्ट्रीय रायफल्स आतंकवादियों के खिलाफ ऑपरेशन में अहम भूमिका निभाता है.


यह काफी प्रशिक्षित सेना है. एएनआई की रिपोर्ट के मुताबिक आतंकवादी 46 राष्ट्रीय रायफल्स के कैंप के भीतर दाखिल नहीं हो पाए. आतंकवादियों ने कैंप के समीप स्थित एक पार्क के पास से अंदर दाखिल होने की कोशिश की. यह हमला इस खुफिया सूचना के बाद हुई है कि 29 सितंबर को भारतीय सेना द्वारा किये गए लक्षित हमले के बाद जम्मू कश्मीर में सुरक्षा प्रतिष्ठानों पर आतंकवादी हमला हो सकता है. यह फिदायीन हमला उरी सेना के ब्रिगेड मुख्यालय पर हुए आतंकी हमले के महज एक पखवाड़े के बाद हुआ है. उरी हमले में 19 जवान शहीद हुए थे.

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top