Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

J-K: मृतकों की संख्या हुई तीन, सेना ने दिए जांच के आदेश

 Tahlka News |  2016-04-13 05:20:38.0

109190-478589-kashmir-security


जम्मू, 13 अप्रैल. जम्मू कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने मंगलवार को सेना की फायरिंग में 3 लोगों की मौत के मामले को उन्होंने सेना के अधिकारियों के सामने उठाया है। उन्होंने इस सिलसिले में सख्त कार्रवाई करने को कहा है। फायरिंग में मारे गए लोगों की संख्या बढ़कर अब तीन हो गई है। सेना ने मामले की जांच के आदेश दे दिए है। महबूबा ने मारे गए युवकों के परिजन के प्रति हमदर्दी जाहिर करते हुए भरोसा दिलाया कि इस मामले के दोषियों को सख्त सजा मिलेगी। मुख्यमंत्री ने जांच का पूरा भरोसा दिया है। दूसरी तरफ हुर्रियत के कट्टरपंथी धड़े के नेता सैयद अली शाह गिलानी ने तीन लोगों की मौत के विरोध में बुधवार को कश्मीर बंद का आह्वान किया है। नरमपंथी हुर्रियत के नेता मीरवाइज उमर फारुक ने भी गोलीबारी की घटना की निंदा की है।


बता दें कि जम्मू कश्मीर के हंदवाड़ा में मंगलवार को इस बात पर जबरदस्त बवाल हुआ था कि एक लड़की के साथ सेना के जवान ने छेड़छाड़ की है। यह खबर फैलने के बाद लोग सेना के बंकर पर पथराव पर उतारू हो गए और प्रर्दशन करने लगे। इस दौरान सेना ने फायरिंग की, जिसमें तीन लोगों की मौत हुई। इनमें से एक उभरता हुआ क्रिकेटर भी शामिल था। लेकिन अब लड़की एक वीडियो सामने आया है, जिसमें लड़की ने कहा है कि उसके साथ बदसलूकी करने वाला सेना का जवान नहीं था।


इससे पहले अधिकारियों ने बताया कि एक छात्रा ने आरोप लगाया था कि जब वह अपने घर लौट रही थी तो शहर में सेना के एक पिकेट पर तैनात सैनिकों ने उसका उत्पीड़न किया जिसके बाद यहां से 85 किलोमीटर दूर कुपवाड़ा जिले के हंदवारा शहर में एक विरोध-प्रदर्शन का आयोजन किया गया। उन्होंने बताया कि प्रदर्शनकारियों ने सेना के पिकेट पर पथराव किया जिसके बाद सेना ने गोलीबारी की। वहीं,  सेना के एक अधिकारी ने मारे गये लोगों के प्रति संवेदना व्यक्त करते हुये कहा कि मामले की जांच की जाएगी और कोई भी दोषी पाया जाता है तो कानून के तहत कार्रवाई की जाएगी।


हालांकि, जम्मू-कश्मीर पुलिस ने आपराधिक मामला दर्ज कर लिया है और घटना की जांच शुरू कर दी है। तीन लोगों की मौत के बाद शहर में और प्रदर्शन शुरू हो गए। कश्मीर के श्रीनगर और पुलवामा जिलों में भी ऐसा ही हाल देखने को मिला।


पुलिस प्रवक्ता ने घटना की शुरुआत के बारे में ब्योरा देते हुए कहा कि सेना के एक जवान की ओर से कथित छेड़छाड़ की घटना के कुछ ही मिनट के भीतर बड़ी संख्या में वहां लोग एकत्रित हो गए और उन्होंने हंदवाड़ा चौक पर सेना के बंकर पर हमला कर दिया। प्रवक्ता के मुताबिक, उन्होंने वहां तैनात जवानों पर हमला बोला। बंकर में तोड़फोड़ की और बंकर में आग लगाने का प्रयास किया।


प्रवक्ता ने कहा, 'बदले में तैनात सुरक्षा बलों ने हिंसक भीड़ को तितर-बितर करने के लिए बल प्रयोग किया। इस दौरान मोहम्मद इकबाल (24) और नईम कादिर भट (22) और रजा बेगम (70) गोली लगने से घायल हो गए। उन्हें अस्पताल पहुंचाया गया जहां उनकी मृत्यु हो गई।' इस घटना में दो अन्य घायल बताए जा रहे हैं।

अंडर-19 स्तर का खिलाड़ी था नईम
नईम के दोस्तों का दावा है कि वह तीन साल पहले अंडर-19 के राष्ट्रीय स्तर के क्रिकेट शिविर में भाग ले चुका था। नईम की मौत के बाद सोशल मीडिया पर उसकी तस्वीरें डाली जा रहीं हैं जिनमें एक तस्वीर में उसे जम्मू कश्मीर के हरफनमौला खिलाड़ी परवेज रसूल के साथ नेट अभ्यास करते हुए देखा जा सकता है। शहर के संवेदनशील इलाकों में कानून व्यवस्था बनाये रखने के लिए अतिरिक्त पुलिस बल को तैनात किया गया है।


Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top