Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

यूपी का चीरहरण रोकने काशी में केशव का हुआ कृष्णावतार

 Tahlka News |  2016-04-15 05:31:51.0

a1तहलका न्यूज ब्यूरो
वाराणसी, 15 अप्रैल. भाजपा के नवनियुक्त प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्या के स्वागत की तैयारी में एक पोस्टर जारी हुआ है। इस पोस्टर के जरिए बताया गया है कि उत्तर प्रदेश (यूपी) का चीरहरण रोकने के लिए काशी में केशव का कृष्णावतार हुआ है। पोस्टर में यूपी को एक नारी के रूप में दिखाया गया है और सभी बड़े राजनीतिक दलों के मुखिया नारी का चीरहरण करने में लगे हुए हैं। वहीं, केशव मौर्या को भगवान श्रीकृष्‍ण के रूप में चक्र चलाते हुए दिखाया है।


मायावती ने कहा था बंधुआ मजदूर
बाबासाहेब भीमराव आंबेडकर की 125वीं जयंती पर आयोजित बसपा की रैली में पार्टी सुप्रीमो मायावती ने बीजेपी के नए अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्या पर तीखा हमला बोला है। मायावती ने मौर्य पर काफी तल्ख टिप्पणी करते हुए कहा कि केशव का आपराधिक इतिहास रहा है। वह घोर जातिवादी हैं और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के बंधुआ मजूदर है।

कौन हैं केशव मौर्या

केशव कौशांबी के सिराथू के कसया गांव के रहने वाले हैं। उनके पिता श्याम लाल वहां चाय की दुकान चलाते थे। केशव प्रसाद मौर्य की प्राथमिक शिक्षा-दीक्षा भी वहीं हुई। बचपन में केशव पिता की दुकान चलाने में मदद करते थे और अखबार भी बेचते थे। आज उनके व उनकी पत्नी के पास करोड़ों की संपत्ति है। लोकसभा चुनाव के दौरान नामांकन के समय दिए गए हलफनामे के अनुसार आज केशव दंपती पेट्रोल पंप, एग्रो ट्रेडिंग कंपनी, कामधेनु लाजिस्टिक आदि के मालिक हैं। साथ ही जीवनज्च्योति अस्पताल में दोनों पार्टनर हैं। सामाजिक कार्यो के लिए कामधेनु चेरीटेबल सोसायटी भी बना रखी है।

दर्ज कर चुके हैं ऐतिहासिक जीत
विहिप से जुड़े केशव 18 वर्ष तक गंगापार और यमुनापार में प्रचारक रहे। 2002 में शहर पश्चिमी विधानसभा सीट से उन्होंने भाजपा प्रत्याशी के रूप में राजनीतिक सफर शुरू किया। उन्हें बसपा प्रत्याशी राजू पाल ने हराया था। इसके बाद वर्ष 2007 के चुनाव में भी उन्होंने इसी विधानसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ा। इस बार भी उन्हें जीत तो नहीं हासिल हुई पर 2012 के चुनाव में उन्हें सिराथू विधानसभा सीट से भारी जीत मिली। यह सीट पहली बार भाजपा के खाते में आई थी। दो वर्ष तक विधायक रहने वाले केशव ने फूलपुर सीट पर भी पहली बार भाजपा का झंडा फहराया। मोदी लहर में इस सीट पर पांच लाख 3564 वोट हासिल कर उन्होंने एक इतिहास बना दिया।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top