Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

कन्हैया के खिलाफ नहीं मिले दिल्ली पुलिस को सबूत, जल्द दाखिल होगी चार्जशीट

 shabahat |  2017-03-01 13:59:14.0

कन्हैया के खिलाफ नहीं मिले दिल्ली पुलिस को सबूत, जल्द दाखिल होगी चार्जशीट


तहलका न्यूज़ ब्यूरो

नई दिल्ली. देश विरोधी नारे लगाने का इल्जाम झेल रहे जेएनयू के छात्र नेता कन्हैया कुमार के खिलाफ पुलिस को जांच में अब तक कोई सबूत हाथ नहीं लगा है. दिल्ली पुलिस बहुत जल्द इस मामले में चार्जशीट दाखिल करने वाली है. इस बारे में कन्हैया कुमार का कहना है कि हम सरकार की जन विरोधी नीतियों के खिलाफ नारे लगाते हैं. हमने नारे लगाये थे. वह नारे देश विरोधी हैं या नहीं यह तय करना अदालत का काम है.

कन्हैया कुमार का कहना है कि उन्होंने कभी देश विरोधी नारे नहीं लगाये लेकिन गृहमंत्री के फर्जी ट्विट के आधार पर मेरा लिंक हाफ़िज़ सईद से जोड़ा गया. इसी वजह से मुझ पर हमले हुए. मुझे आज भी गालियाँ सुननी पड़ती हैं. जिन लोगों ने यह किया है उन्हें देश से माफी मांगनी चाहिये. और अगर पुलिस के पास कोई सबूत है तो पुलिस को उसे कोर्ट में पेश करना चाहिये.

उल्लेखनीय है कि पिछले साल 9 फरवरी को अफज़ल गुरु और मकबूल भट्ट की बरसी पर जेएनयू में कार्यक्रम आयोजित किया गया था. इस कार्यक्रम के दौरान देश विरोधी नारे लगाये गये थे जिसका वीडियो खूब वायरल हुआ था. वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस ने कन्हैया कुमार को गिरफ्तार किया था. कन्हैया के अलावा उमर खालिद और अनिर्बान के खिलाफ देशद्रोह की धाराएं लगाई गई थीं.

कन्हैया कुमार का कहना है कि किसी भी मामले को अंतिम रूप से तय करने का अधिकार अदालत और देश के संविधान के पास है. इस अधिकार को कोई भी अपने हाथ में नहीं ले सकता है. आज भाजपा नेता शाजिया इल्मी को दिल्ली यूनीवर्सिटी में बोलने नहीं दिया गया. इस पर कन्हैया कुमार ने कहा कि कहीं किसी को बोलने से नहीं रोका जा सकता. यह तो मौलिक अधिकारों का हनन है. आप हमसे सहमत हो सकते हैं, असहमत हो सकते हैं लेकिन बोलने का अधिकार हमसे नहीं छीन सकते. कन्हैया का कहना है कि विश्वविद्यालयों में जो गुंडागर्दी हो रही है उसके पीछे एबीवीपी का हाथ है.

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top