Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

दिल्ली: रामजस कॉलेज में "कल्चर ऑफ प्रोटेस्ट" का विरोध, ABVP-AISA के बीच फिर हिंसक झड़प

 Sonalika Azad |  2017-02-23 04:13:21.0

दिल्ली: रामजस कॉलेज में कल्चर ऑफ प्रोटेस्ट का  विरोध, ABVP-AISA के बीच फिर हिंसक झड़प

तहलका न्यूज़ ब्यूरो.


नई दिल्ली.
दिल्ली विश्वविद्यालय के रामजस कॉलेज में उमर खालिद और शहला राशीद को बुलाने के मामले ने बुधवार को हिंसक रूप ले लिया. दरअसल सेमिनार कल्चर ऑफ प्रोटेस्ट आयोजित किया जाना था. लेकिन एबीवीपी के विरोध में उतर आने की वजह से मंगलवार का कार्यक्रम रद्द कर दिया गया था.


दरअसल, रामजस कॉलेज के इतिहास विभाग ने मंगलवार से दो दिन का सेमिनार कल्चर ऑफ प्रोटेस्ट आयोजित किया था. पहले दिन इसमें जेएनयू के विवादित छात्र उमर खालिद और जेएनयू छात्रसंघ की पूर्व सदस्य शेहला राशिद को भी बुलाया गया था. लेकिन एबीवीपी के विरोध में उतर आने की वजह से मंगलवार का कार्यक्रम रद्द कर दिया गया था.


एबीवीपी ने एक वीडियो जारी कर आरोप लगाया है कि वामपंथी छात्र संगठन आइसा ने डीयू के रामजस कॉलेज में भी देश विरोधी नारे लगाए हैं, लेकिन आइसा ने आरोपों से इनकार किया है.



35 सेकेंड का एक वीडियो ट्विटर पर कल रात 9 बजे एबीवीपी के नेता साकेत बहुगुणा ने जारी करते हुए दावा किया कि वीडियो दिल्ली यूनिवर्सिटी के रामजस कॉलेज कैंपस का हैं और इसमें वामपंथी छात्र देश विरोधी नारेबाजी कर रहे हैं.

जेएनयूरजिस्ट्रार ने एडमिन ब्लॉक को घेरने वाले छात्र और लेक्चरर्स से अपील की है कि वह जल्द से जल्द एडमिन ब्लॉक को खाली करें, जिससे जेएनयू प्रशासन अपना कामकाज शुरू कर सके. क्योंकि उनके घेराव और प्रतिबंध के कारण विश्वविद्यालय के सारे प्रोजेक्ट रुके पड़े हैं. नए सत्र की दाखिला प्रक्रिया के बारे में भी दाखिले के इच्छुक छात्र फोन कर प्रश्न पूछ रहे हैं.







Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top