Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

सेल्फी से अटेंडेंस देंगे मास्टर साहब

 Avinash |  2017-02-10 15:25:24.0

सेल्फी से अटेंडेंस देंगे मास्टर साहब

तहलका न्यूज़ ब्यूरो
लखनऊ. समाज और देश की उन्नति में शिक्षा की भूमिका अत्यंत महत्वपूर्ण होती है. शिक्षा के अभाव में किसी भी देश और समाज के विकास की कल्पना करना संभव नहीं है, लेकिन हमारे देश का दुर्भाग्य है कि हम लोग अभी तक अपनी शिक्षा व्यवस्था को गुणवत्तापूर्ण नहीं बना पाएं हैं. दरअसल इसकी एक वजह यह है कि हमारी बेसिक शिक्षा व्यवस्था सबसे ज्यादा दयनीय है, जब नीव ही कमजोर होगी तो उस पर बनने वाली ईमारत कैसे मजबूत हो सकती है. हमारी सरकारें इस दिशा में सुधार के लिए काफी प्रयास करती हैं, लेकिन जब तक समाज के लोग और ख़ास करके हमारे शिक्षक बंधू इस विषय पर गंभीर नहीं होंगे तब तक किसी अच्छे परिणाम की उम्मीद नहीं की जा सकती.

हालाँकि कुछ लोग एसे भी हैं, जो इस दिशा में बिना किसी स्वार्थ के काम कर रहें हैं, ऐसा ही एक किस्सा हम आपको बताने जा रहे हैं, चन्दौली के जिलाधिकारी कुमार प्रशान्त ने बेसिक शिक्षा में सुधार के लिए मिशन मार्गदर्शन कार्यक्रम के तहत 'एटेंडेंश विथ सेल्फी' नाम की एक अनोखी मुहीम चलाई है. इस मुहीम के तहत सभी विद्यालयों को एक व्हाट्सएप ग्रुप से जोड़ दिय गया हैं और सभी विद्यालयों को रोजना अपने विद्यालय में सभी अध्यापक और बच्चों के साथ एक फोटों खींच कर उस ग्रुप मे भेजना होता हैं.

बता दें कि इस आईडिया ईजाद करने वाले दो युवा हैं, एक चन्दौली जिले के जिलाधिकारी कुमार प्रशान्त तथा दूसरे एमएमएमयूटी गोरखपुर के छात्र नवीन राय हैं. 'एटेंडेंश विथ सेल्फी' की शुरुआत जनपद चंदौली के नौगढ़ तहसील से की गई है. इसको लागू करने के लिए जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी सन्तोष कुमर सिह बीते शनिवार को नौगढ़ बीआरसी पर सभी प्राइमरी और पूर्व मा. वि. के प्राधानाचर्यो के साथ बैठक कर इस कार्यक्रम को लागू करने का निर्देश दिया हैं.

इस कर्यक्रम के समन्वयक नवीन कृष्ण राय है. सोमवर से इस ग्रुप में फोटो आने लगे है. जिससे कि यह सुनिश्चित हो पा रहा हैं कि सभी अध्यापक समय पर विद्यालय रोजना पहुंचे. इस मिशन के संयोजक नवीन कृष्ण राय है. नवीन राय वर्ष 2015-16 में ही गोरखपुर के मदन मोहन मालवीय तकनीकी विश्वविद्यालय से इंजीनियरिंग की पढ़ाई के साथ ही कुछ अलग जज्बे के साथ समाज में कुछ अलग करने निकल पड़ें. नवीन का भरपूर साथ मिला युवा आईएएस कुमार प्रशान्त का. कुमार प्रशान्त और नवीन की मुलाकात गोरखपुर में ही हुई थी जब कुमार प्रशान्त बतौर मुख्य विकास अधिकारी पद पर कार्यरत थे. कुमार प्रशान्त ने सदैव युवाओं को इस प्रकार के कार्यों में प्रेरित करते रहते हैं.

नवीन गोरखपुर में पढ़ाई के दौरान ही गोरखपुर के तत्कालीन जिलाधिकारी रंजन कुमार और कुमार प्रशान्त की मार्गदर्शन में रुरल यूथ लीडरशिप का कार्यक्रम चलाया. जिसमें 100 गरीब परिवार के बच्चों को निशुल्क अंग्रेजी और करियर काउन्सिलिंग कराया. कार्यक्रम का समापन और प्रमाण पत्र वितरण कमिश्नर पी गुरुप्रसाद ने किया. तत्पश्चात नवीन ने गोरखपुर के बाद कुमार प्रशान्त जिलाधिकारी चन्दौली के मार्गदर्शन में नक्सली प्रभावित क्षेत्र चन्दौली के नौगढ़ तहसील में रोजगार मेले का आयोजन किया. जिसमें गरीब परिवारों के 35 बच्चों को नौकरी मिली.

नवीन ने जिले की शिक्षा व्यवस्था ठीक करने के लिए चन्दौली के बेसिक शिक्षा अधिकारी के साथ मिलकर विद्यालयों में विद्यालय प्रबंध समिति की निगरानी शुरू की और लोगों को जागरूक करना प्रारंभ किया. इसके साथ उन्होंने अध्यापकों के उपस्थिति के लिए " व्हाट्सएप विथ सेल्फी" कार्यक्रम की शुरुआत की जिसे काफी सफलता मिल रही है. सामाजिक निगरानी व्यवस्था के लिए प्रत्येक गांव में नौजवानों की कमेटी बनाई है जो विद्यालय के पठन पाठन पर ध्यान देते हैं. इसका पूरा श्रेय जिलाधिकारी कुमार प्रशान्त को जाता है जिन्होंने नवीन राय को हौसला दिया.

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top