Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

जन्मदिन से पहले कुमार सानू ने पाकिस्तान को दिया झटका

 Girish Tiwari |  2016-09-21 17:54:58.0

कुमार सानूतहलका न्यूज़ ब्यूरो 

नई दिल्ली. उरी में आतंकवादी हमले में जवानों के शहीद हो जाने पर जहां सारा देश गुस्से में है वहीं मशहूर गायक कुमार सानू ने भी अपनी पाकिस्तान की यात्रा रद्द करके विरोध जताया है। आपको बता दें कुमार सानू को पाकिस्तान में एक कार्यक्रम में हिस्सा लेना था. यह संगीत कार्यक्रम 26 सितंबर को पाकिस्तान के लाहौर में था लेकिन उरी में सैनिक छावनी पर आतंकियों के हमले के विरोध में कुमार सानू ने अपनी पाकिस्तान यात्रा रद्द कर दी है।

कुमार सानू ने कहा कि मैंने कार्यक्रम के आयोजकों को फोन करके मना कर दिया। मैंने उनको कह दिया कि मैं पाकिस्तान नहीं आ रहा हूं। उन्होंने कहा कि जिस देश ने आपके देश के जवानों पर हमला किया उस देश में जाकर मैं कार्यक्रम नहीं कर सकता। इतनी इंसानियत तो है मुझमें।


आप को बता दें कि  90 के दशक में कुमार सानू ने युवाओं के दिल में एक खास जगह बनाई थी। उस जमाने में सानू के गीतों से फिल्में हिट हुआ करती थी। 1990 में फिल्म 'आशिकी' से फिल्मों में अपनी अलग पहचान बनाने वाले सानू आज भी लोगों के दिलों में राज कर रहे हैं। आज इस मशहूर सिंगर का जन्मदिन है। उनका जन्म 22 सितम्बर 1957 में हुआ था।

नदीम-श्रवण के संगीत निर्देशन में कुमार सानू की आवाज में रचा बसा गाना 'सांसो की जरूरत हो जैसे, नजर के सामने जिगर के पार, अब तेरे बिन जी लेंगे हम, धीरे-धीरे से मेरी जिंदगी में आना, मैं दुनिया भूला दूंगा तेरी चाहत में' श्रोताओं के बीच काफी लोकप्रिय हुआ। इन गानों ने फिल्म को सुपरहिट बनाने में अहम भूमिका भी निभाई।

आमिर खान, शाहरुख खान जैसे नामचीन नायकों की आवाज कहे जाने वाले कुमार सानू ने तीन दशक से भी ज्यादा लंबे करियर में लगभग 9000 फिल्मी और गैर फिल्मी गाने गाये हैं। उन्होंने हिन्दी के अलावा बंगला फिल्मों के गीतों को भी अपना स्वर दिया है।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top