Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

तमिलनाडु: सीएम पलनीसामी की गुप्त मतदान की मांग को स्पीकर ने ठुकराया, विधानसभा में बहुमत परीक्षण जारी

 Girish |  2017-02-18 06:47:22.0


तहलका न्‍यूज ब्‍यूरो नई दिल्ली: तमिलनाडु के सीएम पलानीसामी को शनिवार को विधानसभा में बहुमत साबित करना है। पलानीसामी के लिए इसमें सबसे बड़ी मुश्किल उन्हीं की पार्टी यानि AIADMK के पन्नीरसेल्वम हैं। शशिकला के जेल जाने के बाद अब तमिलनाडु के मुख्यमंत्री पद की लड़ाई पन्नीरसेल्वम और पलानीसामी के बीच की हो गई है। वहीं, डीएमके के कार्यकारी अध्यक्ष एम के स्टालिन ने कहा है कि उनकी पार्टी पलानीसामी सरकार के विश्वास मत के खिलाफ मतदान करेगी। कांग्रेस भी खिलाफ में मतदान करने की बात कह चुकी है। तमिलनाडु कांग्रेस समिति के प्रमुख सू थिरूनावुक्करासर ने कहा है कि पार्टी आला कमान की सलाह के बाद वोटिंग पर फैसला किया जाएगा। इसके अलावाकांग्रेस भी खिलाफ में मतदान करने की बात कह चुकी है। विश्वास मत से एक दिन पहले पलानीसामी गुट को शुक्रवार उस वक्त झटका लगा जब विधायक और राज्य के पूर्व डीजीपी, आर नटराज ने कहा कि वे सीएम के विश्वास प्रस्ताव के खिलाफ मतदान करेंगे। नटराज के इस कदम से 234 सदस्यों वाली विधानसभा में पलानीस्वामी के कथित समर्थक विधायकों की संख्या कम हो कर 123 गई है। बताते चलें कि तमिलनाडु विधानसभा में 234 सीटें हैं और विधानसभा में एआईएडीएमके के 134 विधायक हैं। अब बहुमत के लिए 118 विधायकों के समर्थन की ज़रूरत है। आर नटराज के खिलाफ जाने के बाद भी पलानीसामी गुट का दावा है कि उनके पास बहुमत से 5 ज्यादा 123 विधायकों का समर्थन है। पनीरसेल्वम के पास अब 11 विधायकों का समर्थन है, लेकिन विशेषज्ञों को लगता है कि अगर वो पलानीस्वामी गुट के कुछ और विधायकों को अपने पक्ष में करने में कामयाब हो जाते हैं तो वे उसे अल्पमत की सरकार बना सकते हैं।

Read more at: http://tahlkanews.com/mukhya-samachar/tamil-nadu-cm-palanisami-today-to-prove-trust-vote-of-his-govt-in-assembly-150397


तहलका न्‍यूज ब्‍यूरो नई दिल्ली: तमिलनाडु के सीएम पलानीसामी को शनिवार को विधानसभा में बहुमत साबित करना है। पलानीसामी के लिए इसमें सबसे बड़ी मुश्किल उन्हीं की पार्टी यानि AIADMK के पन्नीरसेल्वम हैं। शशिकला के जेल जाने के बाद अब तमिलनाडु के मुख्यमंत्री पद की लड़ाई पन्नीरसेल्वम और पलानीसामी के बीच की हो गई है। वहीं, डीएमके के कार्यकारी अध्यक्ष एम के स्टालिन ने कहा है कि उनकी पार्टी पलानीसामी सरकार के विश्वास मत के खिलाफ मतदान करेगी। कांग्रेस भी खिलाफ में मतदान करने की बात कह चुकी है। तमिलनाडु कांग्रेस समिति के प्रमुख सू थिरूनावुक्करासर ने कहा है कि पार्टी आला कमान की सलाह के बाद वोटिंग पर फैसला किया जाएगा। इसके अलावाकांग्रेस भी खिलाफ में मतदान करने की बात कह चुकी है। विश्वास मत से एक दिन पहले पलानीसामी गुट को शुक्रवार उस वक्त झटका लगा जब विधायक और राज्य के पूर्व डीजीपी, आर नटराज ने कहा कि वे सीएम के विश्वास प्रस्ताव के खिलाफ मतदान करेंगे। नटराज के इस कदम से 234 सदस्यों वाली विधानसभा में पलानीस्वामी के कथित समर्थक विधायकों की संख्या कम हो कर 123 गई है। बताते चलें कि तमिलनाडु विधानसभा में 234 सीटें हैं और विधानसभा में एआईएडीएमके के 134 विधायक हैं। अब बहुमत के लिए 118 विधायकों के समर्थन की ज़रूरत है। आर नटराज के खिलाफ जाने के बाद भी पलानीसामी गुट का दावा है कि उनके पास बहुमत से 5 ज्यादा 123 विधायकों का समर्थन है। पनीरसेल्वम के पास अब 11 विधायकों का समर्थन है, लेकिन विशेषज्ञों को लगता है कि अगर वो पलानीस्वामी गुट के कुछ और विधायकों को अपने पक्ष में करने में कामयाब हो जाते हैं तो वे उसे अल्पमत की सरकार बना सकते हैं।

Read more at: http://tahlkanews.com/mukhya-samachar/tamil-nadu-cm-palanisami-today-to-prove-trust-vote-of-his-govt-in-assembly-150397

Girish ( 4001 )

Tahlka News Contributors help bring you the latest news around you.


  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top