Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

रामदेव और आसाराम जैसे बाबा मीडिया की देन: मंहत नरेंद्र गिरी

 Tahlka News |  2016-04-09 08:40:58.0

caf7698a-9b08-402f-bb01-46808cee7d6a

तहलका न्यूज ब्यूरो
उज्जैन, 9 अप्रैल. मध्यप्रदेश की धार्मिक नगरी उज्जैन में सिंघस्थ कुम्भ के पावन अवसर पर शनिवार को "सिंहस्थ और मीडिया की भूमिका" पर राष्ट्रीय परिचर्चा का आयोजन हुआ। इस दौरान अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरी ने कहा कि मीडिया वास्तव में देश का सचिव है। मीडिया राज्य को सही सूचनायें देता है। मीडिया को निष्पक्ष होना चाहिए, चाटुकार नही वरना देश और समाज का नुकसान होता है।


a1

महंत ने कहा कि समाचारो में आलोचना भी सकारात्मक रूप में ही आए तो अच्छा हो। आजकल कई ऐसे महात्मा भी आ गए है जो संत नही हैं, वे महज मीडिया को मैनेज कर के ही संत बन गए हैं। आज तक यदि किसी अखाड़े के संत पर कोई लांछन लगा हो तो मैं आज ही सन्यास छोड़ कर पेंट शर्ट पहन लूँगा।


उन्होंने कहा कि बाबा और महात्मा बनाने का काम संतो का है। मगर आज मीडिया भी बाबा बनाने लगा है। रामदेव और आशाराम जैसो को मीडिया ने ही बनाया है। आजकल कथावाचक के नाम पर नौटंकीबाज सामने आने लगे हैं। मंहत ने इस दौरान कहा कि शाही स्नान के दौरान स्त्रियों और नाग साधुओं के फोटो लेने में सयंम बरतने की जरुरत है।


a3


इस दौरान महंत ने यूपी के सीएम अखिलेश यादव की तारीफ की। उन्होंने कहा कि अखिलेश यादव ने कुम्भ व्यवस्था की व्यवस्था बहुत अच्छे से की। उन्होंने कोई बजट ही नही दिया बल्कि खजाना ही खोल दिया था। इस दौरान आईएफडब्ल्यूजे के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष हेमंत तिवारी ने कहा की यह बहुत ही महत्वपूर्ण है की इस महान पर्व के सिलसिले में मीडिया की भूमिका पर चर्चा की जा रही है। आज मीडिया में तेजी का युग है इस दौर में मीडिया को भी संभालने की भी जरुरत है क्योंकि हमारी भूमिका बढ़ी हुई है।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top