Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

पाकिस्तान आतंकवाद का अड्डा बन चुका है: मनिंदर सिंह बिट्टा

 Tahlka News |  2016-02-07 15:54:58.0

a1तहलका न्यूज ब्यूरो
जौनपुर, 7 फरवरी. पाकिस्तान आतंकवाद का अड्डा बन गया हैं। संयुक्त राष्ट्र संघ (यू.एन.) इसे आतंकवादी राष्ट्र घोषित करें। यह बात रविवार को आल इण्डिया एंटी टेररिस्ट फ्रंट के राष्ट्रीय अध्यक्ष मनिन्दर जीत सिंह बिट्टा ने कही। वह जिले में आतंकवाद विरोध मैराथन दौड़ के बाद यहाँ पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। उन्होंने कहा कि पठानकोट की घटना भारत के साथ पाक का धोखा भरा कारनामा है। यह पीठ में छूरा घोंपने का काम है। दुनिया के सभी देश अब एकजुट होकर संयुक्त राष्ट्रसंघ पर दबाव बनाये कि वह पाकिस्तान को आतंकवादी देश घोषित करें। अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा ने भी पाकिस्तान को आतंकवादियों की जन्नत और सैरगाह बताया है।


बिट्टा ने कहा कि देश के सभी राजनीतिक दल भी आतंकवाद के खिलाफ एक संयुक्त नीति बनाये। उन्होंने देश में आतंकवादी निरोध कानून बनाने पर बल देते हुए कहा कि देश में पकड़े जाने वाले आतंकवादियों के संबंध में 6 महीने के अंदर फैसला होना चाहिये। कोर्ट मार्शल जैसे नीतियों पर भी अमल करना चाहिये।


कश्‍मीर में लगे राष्‍ट्रपति शासन
ये कहा कि जम्मू कश्मीर में सत्ता की जोड़-तोड़ को देखते हुए सीधे राष्ट्रपति शासन लगाया जाए। वहां एक योग्य गर्वनर नियुक्त कर पंजाब के तर्ज पर आतंकवाद का खात्मा किया जाना चाहिए। हैदराबाद के मुस्लिम कट्टर नेता मो. ओवैसी के धर्म निरपेक्षता को तोड़ने के बयान पर बिट्टा ने तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि वह औरंगजेब न बनकर अकबर के चरित्र को धारण करें। देश को गुरु तेग बहादुर और छत्रपति शिवाजी के इतिहास को दोहराना पड़ेगा। देश के मौलाना और इमाम भी आतंक के खिलाफ अपनी आवाज बुलंद करें नहीं तो देश को भारी नुकसान उठाना पड़ सकता है। ओवैसी के गलत बयानों पर सरकार को कार्यवाही कारनी चाहिये।


गुजरात मॉडल को अपनाने की जरूरत
बिट्टा ने देश के आतंरिंक सुरक्षा को मजबूत करने के लिये गुजरात पुलिस के मॉडल रोल को अपनाने की वकालत की। उन्होंने कहा कि आईएसआईएस के लोग देश के युवाओं को भ्रमित कर सोशल मीडिया के जरिये भ्रमित कर रहे हैं। यह एक गलत संदेश और देश के लिये विनाशकारी है। यूपी की मिट्टी को नमन करते हुए उन्होंने कहा कि यहां के लोगों का देश की सीमाओं की रक्षा करते हुए कुर्बानी देने का गौरवशाली देश की सीमाओं की रक्षा करते हुए कुर्बानी देने का गौरवशाली इतिहास रहा है। उन्होंने अब्दुल हमीद जैसे कई शहीदों का स्मरण किया। हम सब को अपनी भारत मां की रक्षा मजबूत इरादों से करने की जरूरत है।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top