Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

पुराने फार्मूले पर लौटी मायावती, गरीब सवर्णों को भी मिले आरक्षण

 Girish Tiwari |  2016-06-04 07:43:45.0



mayawati

तहलका न्‍यूज ब्‍यूरो
लखनऊ:
बसपा प्रमुख मायावती ने शनिवार को केंद्र की मोदी सरकार और उत्‍तर प्रदेश की सपा सरकार पर जोरदार हमला बोला। साथ ही सीएम अखिलेश यादव केे बुंदेलखंड दौरे पर सवाल उठाते हुए मायावती ने कहा कि सीएम को महाेबा के बजाए मथुरा में होना चाहिए था। उन्‍होंने कहा कि सीएम अखिलेश यादव मथुरा कांड को गंभीरता से नहीं ले रहे हैं। इस पूरे मामले की सुप्रीम कोर्ट की निगरानी में सीबीआई जांच होनी चाहिए। मायावती ने कहा कि कानून-व्यवस्था पर मौजूदा यूपी सरकार पूरी तरह विफल है। हर तरफ भ्रष्टाचार का बोलबाला है। प्रदेश में गुंडों का राज है। माफिया और अपराधी सरकार पर हावी है। यूपी के इन मुद्दों पर बीजेपी चुपचाप है। सपा सरकार की छवि आज पूरे देश में खराब है, वहीं बीजेपी का रवैया गैरजिम्मेदार है।


इस दौरान मायावती ने कहा कि गरीब सवर्णों को भी आरक्षण मिलनाा चाहिए। साथ ही आर्थिक आधार पर भी आरक्षण मिले। प्रमोशन में आरक्षण पर भी सरकार कुछ नहीं कर रही है, जबकि संविधान संशोधन राज्य सभा में पारित है।


याद किए जाएंगे अखिलेश यादव
सपा सरकार के चार साल और केन्द्र की भाजपा सरकार के दो साल पूरे होने पर बसपा सुप्रीमो मायावती ने कहा कि सपा और भाजपा दोनो खोटे सिक्के के अलग अलग पहलू हैं। अब इनका कोई उपयोग नहीं है। जनता इन दोनों पार्टियों से उब चुकी है। अब नए नतीजे देने के लिए जनता तैयार बैठी है। मायवती ने कहा कि गोंडा के कर्नलगंज में दंगे लिए सपा मुखिया मुलायम सिंह यादव की सरकार याद की जाएगी तो मुजफफरनगर, सहारनपुर, मेरठ, बरेली, बागपत दंगे और अब मथुरा कांड के लिए सपा सरकार के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव याद किए जाएंगे।


ऐसे नहीं बदलेगा इंडिया 
मायावती ने पीएम मोदी पर हमला बोलते हुए कहा कि मोदी सरकार ने कोई भी जमीनी कम नहीं किया है। मोदी सरकार प्रचार में जनता का पैसा बर्बाद कर रही है। मोदी सरकार भी कांग्रेस के पदचिन्हों पर चल रही है। मायावती ने कहा कि भाजपा और उसकी केन्द्र की सरकार अपनी संकीर्ण, जातिवाद व कट्टरवादी रवैये के साथ- ही-साथ अपनी गलत नीति व कार्य-प्रणाली के कारण लोगों का विश्वास बहुत तेजी से खोती जा रही है, जिस कारण लोगों का ध्यान बांटने के लिये अब उसे नये-नये शिगूफे व नई-नई पैंतरेबाजी करनी पड़ रही है। पीएम नरेन्द्र मोदी से मायावती ने कहा कि फिल्म बनाने और विज्ञापन करने से इंडिया नहीं बदलने वाला। नया चमकता सूरज तब ही निकलेगा जब काम किया जाएगा। मायावती ने केन्द्र की भाजपा सरकार को एक बार फिर दलित विरोधी करार दिया है। दलितों को भाजपा से सावधान रहने की हिदायद देते हुए उन्होंने कहा है कि पीएम नरेन्द्र मोदी सरकार का स्टैण्ड अप इण्डिया आदि कार्यक्रम मात्र चुनावी ड्रामेबाजी के सिवाय कुछ नहीं है।


maywati 2


बीजेपी पर हमला बोलते हुए मायावती ने कहा कि यूपी में बीजेपी और सपा चुनावी फायदे के लिए साथ मिलकर साम्प्रदायिकता फैलाने की साजिश कर रहे हैं। साथ ही मायावती ने यूपी के राज्‍यपाल राम नाईक जिलोंं में घूमकर बीजेपी का प्रचार कर रहे हैं।


मायावती ने कहा कि 2017 में यूपी में बसपा की सरकार बनेगी। बीएसपी का लॉ एंड आर्डर लोगों के दिमाग में बसा है। उन्होंने कहा कि उनकी सरकार अब पार्क और स्मारक नहीं बनाएगी। पूर्व मुख्यमंत्री ने दावा किया कि बीजेपी और सपा के खिलाफ लोगों में गुस्सा भरा हुआ है। उन्‍होंने कहा कि बेरोजगारों को नौकरी दिलाना भी बसपा की प्राथमिकता होगी। मायावती ने कहा कि सर्वसमाज के गरीबों खासकर दलितों, आदिवासियों व समाज के अन्य उपेक्षित वर्ग के लोगों को तत्काल रोजगार, शिक्षा, स्वास्थ्य के साथ-साथ उन्हें उनका पहले से लागू कानूनी हक सही तरीके से देने के प्रयास को एक प्रकार से बन्द ही कर दिया गया है। इस सम्बन्ध में सबसे जरूरी कदम सरकारी नौकरियों में खाली पड़े हजारों आरक्षित पदों को भरने का होना चाहिये था, किन्तु पिछले दो वर्षों के कार्यकाल में नरेन्द्र मोदी की सरकार ने कांग्रेस की ही जातिवादी तर्ज पर काम करते हुये, आरक्षण को निष्क्रिय व निष्प्रभावी बनाकर अपनी संवैधानिक जिम्मेदारी से भागने का काम किया है।


इसके साथ ही उन्होंने कांग्रेस पर भी हमला बोला। मायावती ने दावा किया कि बीजेपी को कांग्रेस जवाब देने में असफल है। कांग्रेस ज्वलंत मुद्दों को नहीं उठा रही है। पिछले माह पांच राज्यों में आए विधानसभा चुनाव के नतीजों पर तंज कसते हुए बासपा सु्प्रीमो ने कहा कि परिणाम का BJP ने जश्न मनाया था। लेकिन, तमिलनाडु और पुड्डूचेरी में बीजेपी का खाता नहीं खुला। दिल्ली से शुरू हार का सिलसिला 4 राज्यो में भी जारी रहा। मायावती ने कहा कि 5 राज्यो के चुनाव के परिणाम भाजपा के लिए अच्छे नहीं मगर मोदी ने जिस प्रकार से ख़ुशी जताई उससे यह पता चलता है की बिहार की हार से कितने हताश थे।


असम की जीत बताती है की आरएसएस और भाजप को कितनी जरुरत थी, जिसे कांग्रेस ने पूरा कर दिया। कांग्रेस की गलत रणनीति से वोट बाटे। बीजेपी भाजपा सिर्फ कांग्रेस के खिलाफ ही जीत रही है अन्य दलोंं के सामने हार रही है। मायावती ने कहा कि यूपी में गैर कांग्रेसी सरकार बनाने का जरुरत है। सर्वसमाज के हित में बसपा ही एकमात्र सही विकल्प है।


बीजेपी की विदेशनीति पर भी हमला करते हुए मायावती ने कहा कि पाकिस्तान के अलावा नेपाल से रिश्ते खट्टे हुए हैं। उन्होंने कहा कि मोदी के विदेश दौरे से बीजेपी को निजी लाभ है। मोदी के विदेश दौरे से देश का सम्मान नहीं बढ़ रहा है। साथ ही उन्होंने कहा कि बीजेपी में दलितों को ‘जानवर’ की संज्ञा दी जा रही है। उनका इशारा केंद्र सरकार के मंत्री जनरल(रि.) वीके सिंह के बयान की ओर था।


रिजर्व बैंक के गवर्नर रघुराम राजन के समर्थन में उन्होंने बयान दिया. कहा कि राजन ने BJP सरकार को आईना दिखाया है. मायावती ने कहा कि अर्थव्यवस्था में सुधार का लाभ गरीबों को क्यों नहीं मिल रहा ? पूंजीपतियों को अर्थव्यवस्था का लाभ मिल रहा है। जनता को बीजेपी सरकार गुमराह कर रही है. बीजेपी सरकार में गरीबी, महंगाई बढ़ी है। उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि बीजेपी सरकार विरोधियों को प्रताड़ित कर रही है। CBI का कांग्रेस की तरह BJP दुरुपयोग कर रही है।




Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top