Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

मोदी सरकार को घिनौनी राजनीति नहीं करनी चाहिए: मायावती

 Vikas Tiwari |  2016-10-25 11:16:29.0

Mayawati


लखनऊ. उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री एवं बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की अध्यक्ष मायावती ने मंगलवार को कहा कि उत्तर प्रदेश व देश के कुछ अन्य महत्वपूर्ण राज्यों में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं, इसलिए केन्द्र सरकार ने तीन तलाक, मुस्लिम पर्सनल लॉ और समान नागरिक संहिता के मुद्दों पर नया विवाद खड़ा करके राजनीति शुरू कर दी है। मायावती ने यहां मंगलवार को जारी एक बयान में कहा कि उनकी पार्टी केंद्र सरकार के इस कदम की निन्दा करती है।


मायावती ने तीन तलाक के मुद्दे पर कहा कि केन्द्र सरकार को इस मामले में दखल देने के बजाय, यह मामला मुस्लिम समाज में 'आम राय' बनाने पर ही छोड़ देना चाहिए।

उन्होंने कहा कि किसी भी धर्म के किसी भी मुद्दे को लेकर उठे सवाल पर यह बेहतर होगा कि उस धर्म को मानने वाले लोग ही उस पर अपनी आम राय बनाएं।

मायावती ने कहा, "मुस्लिम पर्सनल लॉ और समान नागरिक संहिता के मामले को भी इसी नजरिए से देखा जाना चाहिए। आरएसएस के एजेंडे के हिसाब से चलकर प्रधानमंत्री को किसी भी धर्म के लोगों पर कोई फैसला थोपना नहीं चाहिए।"


उन्होंने ने कहा कि मुस्लिम समाज के धर्म व उनकी शरीयत से सम्बंधित मामलों में भाजपा व प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की सरकार को घिनौनी राजनीति व ख़ासकर चुनावी राजनीति नहीं करना चाहिये। यह अनुचित व देशहित में कतई नहीं है तथा अति-निन्दनीय है।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top