Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

सपा में कलह के बीच कैसा पूरा होगा स्‍टीव जार्डिंग का 'मिशन 2017'?

 Girish Tiwari |  2016-10-18 09:29:34.0

tv4live_akhilesh_steve


तहलका न्‍यूज ब्‍यूरो
लखनऊ: यूपी के सीएम अखिलेश यादव ने समाजवादी पार्टी को दोबारा सत्‍ता में लाने के लिए मशहूर राजनीतिक रणनीतिकार स्‍टीव जॉर्डिन को हायर किया है। हालांकि, सपा में पिछले कुछ महीनों से चल रही उठा-पटक के बीच जर्डिंग की रणनीति का आगामी चुनावों में क्या असर होगा यह तो चुनाव परिणाम ही बताएंगे। बता दें कि यूनाइटेड स्टेट्स के राष्ट्रपति चुनाव में जार्डिंग डेमोक्रेटिक पार्टी की उम्मीदवार हिलेरी क्लिंटन के प्रचार का कभी काम देख रहे हैं।


दो टुकड़ों में बंट रही है पार्टी
सपा में जारी आंतरिक कलह पर नजर डालें, तो पार्टी दो टुकड़ों में बंटने की ओर बढ़ रही है। एक तरफ पार्टी सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव अपने भाई शिवपाल और पुराने दोस्‍त अमर सिंह के साथ खड़े हैं। दूसरी ओर यूपी सीएम अखिलेश यादव, चाचा रामगोपाल यादव और युवा नेताओं के साथ खड़े हैं।राजनीति में रुचि रखने वालों के लिए ये एक दिलचस्प कहानी है कि पार्टी सदस्य कैसे एक-एक करके अपने हित साध रहे हैं। अखिलेश सरकार में पार्टी के प्रदर्शन की बात करें, तो पार्टी जिस दिशा में जा रही है, वो राजनीतिक आत्महत्या से कम नहीं लगती।


स्‍टीव जॉर्डिन कर रहे हैं अपना काम
वहीं, इन सब के बीच हार्वर्ड यूनिवर्सिटी में पब्लिक पॉलिसी विषय पढ़ाने वाला प्रोफेसर स्‍टीव जॉर्डिन ग्रामीण क्षेत्रों में अखिलेश यादव के सामजिक कार्यों को जन-जन तक पहुंचाने में लगा हुआ है। जार्डिंग ने 30 लोगों की एक स्पेशल टीम को इस काम पर लगा भी दिया है।


मोदी सरकार के कार्यों की करते हैं तुलना
हावर्ड यूनिवर्सिटी में पब्‍लिक पॉलिसी के प्रोफेसर जर्डिंग अखिलेश और मोदी सरकार के विकास कार्यों का तुलनात्मक अध्यन करेंगे, जिसे समाजवादी पार्टी अपने चुनाव प्रचार में प्रयोग करेगी। इतना ही नहीं जार्डिंग समाजवादी पार्टी के नेताओं और कार्यकर्ताओं को इस बात की भी ट्रेनिंग देंगे कि वे अपने क्षेत्र में मतदाताओं से कैसे पेश आएं। इसके अलावा वे ग्रामीण क्षेत्रों का सर्वे कर मुख्यमंत्री को फीडबैक भी देंगें।


हार्वर्ड यूनिवर्सिटी के साथ साल 2004 में जुड़े
बताते चले कि पॉलिटिकल कंसल्टेंट, लेक्चरर, राइटर और शिक्षाविद जार्डिंग हार्वर्ड यूनिवर्सिटी के साथ साल 2004 से जुड़े हुए हैं। इसके साथ ही वे मेड्रिड, स्पेन के आईईएसई बिजनेस स्कूल में भी पढ़ाने के साथ ही इंटरनेशनल कंसल्टिंग फर्म एसजेबी स्ट्रेटजीज इंटरनेशनल के फाउंडिंग पार्टनर हैं। एसजेबी दुनियाभर में तमाम इलेक्शन केंडि‍डेट्स को सलाह देने का काम करती है।


Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top