Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

दुबई में कौशल विकास के क्षेत्र में एमओयू हस्ताक्षरित

 Sabahat Vijeta |  2016-05-02 16:10:19.0


  • मुख्यमंत्री ने दुबई में सम्पन्न ‘यूपी इन्वेस्टमेण्ट फोरम समिट’ के दौरान अनेक महत्वपूर्ण एमओयू हस्ताक्षरित होने का स्वागत किया

  • समिट के दौरान बिन जायद ग्रुप के साथ 18,000 करोड़ रूपये एलाना सन्स प्रा.लि. के साथ 1,000 करोड़ रूपये, शरफ ग्रुप के साथ 100 मिलियन डाॅलर के एमओयू हस्ताक्षरित

  • राज्य सरकार की उद्योग फ्रेण्डली नीतियों के फलस्वरूप दुनिया की जानी-मानी कम्पनियां निवेश के लिए आगे आ रही हैं

  • भूमि, स्किल्ड एवं नाॅन स्किल्ड मानव संसाधन, बड़ा बाजार, उद्योग फ्रेण्डली अवस्थापना एवं औद्योगिक निवेश नीति, पर्याप्त विद्युत के साथ-साथ विश्वस्तरीय बुनियादी सुविधाएं उपलब्ध

  • राज्य सरकार निवेशकों को ज्यादा से ज्यादा सुविधाएं दिलाने के लिए लगातार प्रयासरत


akhiलखनऊ. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने दुबई में सम्पन्न ‘यूपी इन्वेस्टमेण्ट फोरम समिट’ के दौरान अनेक महत्वपूर्ण एमओयू हस्ताक्षरित किए जाने का स्वागत करते हुए आश्वस्त किया कि इन परियोजनाओं को मूर्त रूप दिलाने के लिए उद्यमियों को हर सम्भव सुविधा और मदद दी जाएगी। उन्होंने यह भी कहा कि राज्य सरकार की उद्योग फ्रेण्डली नीतियों के फलस्वरूप निवेश के मामले में उत्तर प्रदेश एक आकर्षक गन्तव्य के रूप में उभरा है। यहां जरूरत के हिसाब से भूमि, स्किल्ड एवं नाॅन स्किल्ड मानव संसाधन, बड़ा बाजार, उद्योग फ्रेण्डली अवस्थापना एवं औद्योगिक निवेश नीति, पर्याप्त विद्युत के साथ-साथ विश्वस्तरीय बुनियादी सुविधाएं उपलब्ध हैं। इन तमाम खूबियों के मद्देनजर दुनिया की जानी-मानी कम्पनियां राज्य में निवेश के लिए आगे आ रही हैं।


श्री यादव ने कहा कि प्रदेश के औद्योगिक माहौल में आए बदलाव से स्पष्ट है कि राज्य सरकार सही दिशा में कार्य कर रही है। इसलिए उद्यमियों और निवेशकों का रुझान दिनों-दिन प्रदेश के विकास में योगदान देने के लिए बढ़ रहा है। राज्य सरकार ने अवस्थापना एवं औद्योगिक निवेश नीति को दृष्टिगत रखते हुए विभिन्न क्षेत्रों के लिए भी आकर्षक नीतियों को लागू किया है। उन्होंने कहा कि निवेशकों के सुझाव एवं जरूरतों को ध्यान में रखते हुए आगे भी नीतियों को बनाने और लागू करने का कार्य किया जाएगा।


मुख्यमंत्री ने निवेश के इच्छुक सभी उद्यमियों को राज्य सरकार की ओर से हर सम्भव सहयोग के लिए आश्वस्त करते हुए कहा कि राज्य सरकार का यह लगातार प्रयास रहा है कि निवेशकों को ज्यादा से ज्यादा सुविधाएं दी जा सकें। उन्होंने कहा कि प्रदेश की तेजी से बढ़ रही अर्थव्यवस्था और यहां उपलब्ध संसाधनों के फलस्वरूप उत्तर प्रदेश के एक विकसित राज्य बनने की सभी सम्भावनाएं मौजूद हैं।


यह जानकारी देते हुए अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास विभाग की विशेष सचिव सुश्री कंचन वर्मा ने बताया कि दुबई इन्वेस्टमेण्ट समिट के दौरान कई महत्वपूर्ण एमओयू हस्ताक्षरित हुए, जिनमें बिन जायद ग्रुप के साथ 18,000 करोड़ रुपये, एलाना सन्स प्रा.लि. के साथ 1,000 करोड़ रुपये, शरफ ग्रुप के साथ 100 मिलियन डाॅलर जैसे एमओयू शामिल हैं। इसके साथ ही, कौशल विकास के क्षेत्र में भी एमओयू हस्ताक्षरित किए गए हैं।


सुश्री कंचन वर्मा ने बताया कि बिन जायद ग्रुप के साथ लखनऊ से बलिया तक जाने वाले समाजवादी पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे और थीम पार्क के सम्बन्ध में 18,000 करोड़ रुपये के एमओयू हस्ताक्षरित हुए हैं। इसी प्रकार शरफ ग्रुप के साथ लाॅजिस्टिक्स पार्क, कोल्ड चेन तथा एयर फ्रेट स्टेशन के सम्बन्ध में 100 मिलियन डाॅलर का एमओयू हस्ताक्षरित हुआ है। उन्होंने कहा कि कौशल विकास के क्षेत्र में कौशल विकास तथा सूचना प्रौद्योगिकी आदि क्षेत्रों में भी एमओयू हस्ताक्षरित हुए हैं तथा कई कम्पनियों से इन क्षेत्रों के विकास के सम्बन्ध में निवेश पर विचार-विमर्श हुआ है, जिसके परिणाम शीघ्र ही मिलेंगे।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top