Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

अब व्यक्तिगत चिट्ठी बनी अखिलेश का सबसे बड़ा हथियार

 shabahat |  2017-02-24 15:12:13.0

अब व्यक्तिगत चिट्ठी बनी अखिलेश का सबसे बड़ा हथियार


तहलका न्यूज़ ब्यूरो

लखनऊ. चार चरणों के चुनाव के बाद मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने अब चिट्ठी दांव खेला है. भारतीय जनता पार्टी ने जैसे ही धार्मिक कार्ड चला वैसे ही अखिलेश ने इसका तोड़ ढूँढने की कोशिश शुरू कर दी. यूपी में अभी तीन चरणों का चुनाव बाकी है. तीन चरणों में 22 जिलों के मतदाताओं को फैसला करना है. अखिलेश ने इन 22 जिलों के मतदाताओं को एक व्यक्तिगत चिट्ठी लिखी है. कांग्रेस और समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं को इन चिट्ठियों के साथ हर घर का दरवाज़ा खटखटाने को कहा गया है.



व्यक्तिगत चिट्ठी के ज़रिये मतदाताओं तक अपना सन्देश पहुंचाने के पीछे कांग्रेस के चुनाव प्रचार का प्रबंधन संभालने वाले प्रशांत किशोर का दिमाग माना जा रहा है. अखिलेश का सन्देश लिखी चिट्ठियां हर दरवाज़े तक पहुंचाने का काम शुरू हो गया है.

अखिलेश यादव की इस चिट्ठी के साथ सपा-कांग्रेस गठबंधन की 10 प्राथमिकतायें भी बताई गई हैं. अखिलेश-राहुल गांधी की फोटो के साथ 'यूपी को ये साथ पसंद है' नारा लिखा एक पॉकेट कैलेण्डर भी हर घर में भेजा जा रहा है. सपा-कांग्रेस गठबंधन ने प्रदेश में होने वाले पांचवें, छठे और सातवें चरण के चुनाव के लिए करीब पांच लाख दरवाजों तक यह सन्देश पहुंचाने के लिये रात-दिन एक कर दिया है. कांग्रेस और समाजवादी पार्टी के जो कार्यकर्त्ता घर-घर चिट्ठी पहुंचाने का काम कर रहे हैं वह इस काम के लिये खासकर डिजाइन की गई अखिलेश के नाम की टीशर्ट पहनकर लोगों तक जा रहे हैं. इस टीशर्ट पर लिखा है फिर से अखिलेश और यूपी को यह साथ पसंद है.

यूपी सरकार ने मुख्य रूप से प्रदेश के विकास के लिए जो काम किये हैं यह कार्यकर्त्ता मतदाताओं को यह जानकारी भी दे रहे हैं और अखिलेश यादव की व्यक्तिगत चिट्ठी भी पहुंचा रहे हैं.

Tags:    

shabahat ( 2177 )

Tahlka News Contributors help bring you the latest news around you.


  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top