Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

बाबरी विध्वंस केस: लालकृष्ण आडवाणी, जोशी और उमा के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में आज सुनवाई

 Abhishek Tripathi |  2017-03-22 02:33:09.0

बाबरी विध्वंस केस: लालकृष्ण आडवाणी, जोशी और उमा के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में आज सुनवाई

तहलका न्‍यूज ब्‍यूरो
नई दिल्‍ली. बाबरी विध्वंस मामले में लालकृष्ण आडवाणी, जोशी और उमा पर केस को लेकर सुप्रीम कोर्ट में बुधवार को अंतिम सुनवाई है। राम जन्मभूमि और बाबरी को लेकर जहां एक तरफ देश की सबसे बड़ी अदालत सुप्रीम कोर्ट ने मध्यस्थता की पेशकश की है तो दूसरी तरफ आज इस बात पर सुनवाई होगी कि क्या बाबरी मस्जिद ढांचे को 1992 में गिराने के आरोपी रहे बीजेपी के शीर्ष नेता एलके आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, उमा भारती समेत अन्य को इस मामले में मुकदमे का सामना करना होगा या नहीं। इस पर सुप्रीम कोर्ट ने इसी महीने हुई पिछली सुनवाई में साफ कहा था कि पहली नज़र में इन नेताओं को आरोपों से बरी करना ठीक नहीं लगता। यह कुछ अजीब है। सीबीआई को इस मामले में निचली अदालत के फैसले के खिलाफ समय पर सप्लीमेंट्री चार्जशीट दाखिल करनी चाहिए थी। निचली अदालत ने तकनीकी आधार पर इन नेताओं को बरी किया था जिस पर हाइकोर्ट ने मुहर लगाई थी।

कोर्ट ने सीबीआई को कहा कि इस मामले में सभी 13 आरोपियों के खिलाफ आपराधिक साजिश की पूरक चार्जशीट दाखिल करें। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि बाबरी विध्वंस मामले में दो अलग-अलग अदालतों में चल रही सुनवाई एक जगह ही क्यों न हो?

कोर्ट ने पूछा कि रायबरेली में चल रहे बाबरी मस्जिद से जुड़े दूसरे मामले की सुनवाई को क्यों न लखनऊ ट्रांसफर कर दिया जाए, जहां इसी से जुड़े एक मामले की सुनवाई पहले से ही चल रही है। कोर्ट ने यह भी कहा कि दोनों मामलों को एक साथ सुना जाना चाहिए। वहीं, लालकृष्ण आडवाणी की ओर से इसका विरोध किया गया और कहा गया कि इस मामले में 183 गवाहों को फिर से बुलाना पड़ेगा जो काफी मुश्किल है। कोर्ट को साजिश के मामले की दोबारा सुनवाई के आदेश नहीं देने चाहिए। वहीं, सीबीआई ने कहा कि वह दोनों मामलों का साथ ट्रायल के लिए तैयार है। हालांकि सुप्रीम कोर्ट ने मामले की अंतिम सुनवाई 22 मार्च को रखी है।

Tags:    

Abhishek Tripathi ( 2165 )

Tahlka News Contributors help bring you the latest news around you.


  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top