Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

सीमा विवाद सुलझाने के लिये चीन ने भारत के सामने रखा यह फार्मूला

 shabahat |  2017-03-03 15:16:59.0

सीमा विवाद सुलझाने के लिये चीन ने भारत के सामने रखा यह फार्मूला


नई दिल्ली. चीन ने भारत के साथ सीमा विवाद को सुलझाने के लिए ज़मीनों की अदलाबदली का फार्मूला भारत सरकार के सामने रखा है. चीन पूर्व राजनयिक दाई बिंगुओ ने कहा कि चीन अरुणाचल प्रदेश के एक शहर तवांग के बदले अपने एक हिस्सा भारत को दे सकता है. चीन भारत को जो हिस्सा देने की बात कर रहा है वह दरअसल अक्साई चीन हो सकता है. अक्साई चीन पर भारत अपना अधिकार जताता रहा है और 1962 के भारत-चीन युद्ध की एक बड़ी वजह अक्साई चीन ही था.

तवांग की विशेषता यह है कि यह एशिया का सबसे बड़ा मठ होने का गौरव रखता है. बौद्धों के लिये यह दुनिया का सबसे प्रतिष्ठित स्थान है. तवांग और अक्साई चीन की भौगोलिक स्थितियों की बात करें तो तवांग पर्यटकों के लिए बहुत खूबसूरत पर्यटन स्थल है. यहाँ की शांत झीलें और पत्थर व बांस के बने छोटे-छोटे घर आकर्षण का केन्द्र हैं जबकि अक्साई चीन वह हिस्सा है जिस पर 1950 में चीन ने कब्ज़ा कर लिया था. 16481 वर्ग मील क्षेत्रफल में बसा यह तिब्बती पठार है. इसे खारा मैदान भी कहते हैं. यहाँ मानसून और हवाएं नहीं हैं.

पूर्व राजनयिक बिंगुओ का कहना है कि भारत अगर चीन की चिंताओं का ध्यान रखेगा तो बदले में चीन कहीं और भारत की चिंताओं को कम करेगा. उनका कहना है कि भारत ने चीन की वाजिब मांगों को पूरा नहीं किया इसी वजह से सीमा को लेकर विवाद अभी तक जारी है.

Tags:    

shabahat ( 2177 )

Tahlka News Contributors help bring you the latest news around you.


  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top