Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

इलेक्शन के दौरान फ्लाइंग स्क्वाड पर भी होगी आसमानी नजर

 Anurag Tiwari |  2017-01-26 01:33:01.0

इलेक्शन के दौरान  फ्लाइंग स्क्वाड पर भी होगी आसमानी नजर

तहलका न्यूज ब्यूरो

लखनऊ. चुनावों की घोषणा के साथ ही मॉडल कोड ऑफ़ कंडक्ट लग चुका है. इसका पालन कराने के लिए हर जिले में फ्लाइंग स्क्वाड भी बनाए चुके हैं. समस्या यह थी कि इन फ्लाइंग स्क्वाड पर कौन नजर रखेगा कि यह अपना काम बखूबी अंजाम दे रहे हैं हैं या नहीं.


इसके लिए टेक्नोलॉजी का सहारा लेते हुए चुनाव आयोग के निर्देश पर जीपीआरएस के जरिए फ्लाइंग स्क्वाडस पर नजर रखी जा रही है. लखनऊ में ऐसी ही मोनिटरिंग के लिए कलक्ट्रेट की दूसरी मंजिल पर एक कण्ट्रोल रूम तैयार किया जा रहा है. साथ ही फ्लाइंग स्क्वाड की टीम्स को जीपीआरएस से लैस गाड़ियां दी जा रही हैं.


एडीएम एग्जीक्यूटिव अविनाश सिंह ने बताया कि मॉडल कोड ऑफ़ कंडक्ट का पालन कडाई से करने के लिए फ्लाइंग स्क्वाड को जीपीआरएस से लैस गाड़ियां दी गई हैं. यह जीपीआरएस 24 घंटे एक्टिव रहेगा. इस जीपीआरएस को कलेक्ट्रेट में बन रहे कण्ट्रोल रूम से जोड़ा जाएगा. जीपीआरएस कजे जरिये यह पता लगा जाएगा कि किस गाड़ी ने किस डायरेक्शन में जा रही है और फील्ड में कितनी देर रही. कलेक्ट्रेट में बनने वाले कण्ट्रोल रूम के दो से चार दिनों में एक्टिव होने की उम्मीद है.


Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top