Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

16 वर्षों से इंडियन आर्मी दे रही पीओके में एक जमीन का किराया

 Sonalika Azad |  2017-02-07 04:52:24.0

16 वर्षों से इंडियन आर्मी दे रही पीओके में एक जमीन का किराया

तहलका न्यूज़ ब्यूरो.


नई दिल्ली. केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने उस कथित धोखाधड़ी की जांच शुरू की है जहां सेना से पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) में स्थित जमीन के लिए किराया दिलवाया गया था. कश्मीर में पिछले 16 साल से इंडियन आर्मी द्वारा को किराया दिया जाता रहा है. इस अजीबोगरीब घोटाले को लेकर सीबीआई ने प्राथमिकी दर्ज कर दी है. दर्ज प्राथमिकी के अनुसार वर्ष 2000 में उपसंभागीय रक्षा संपदा अधिकारी और नौशेरा के पटवारी ने निजी व्यक्तियों के साथ मिलकर कथित रूप से साजिश रची है. बताया जा रहा है कि एक गलत डॉक्‍यूमेंट्स की मदद से सरकारी खजाने से जमीन का किराया देने के लिए रकम निकाली जाती थी.


जमाबंदी रजिस्‍टर के अनुसार, साल 1969-70 के खसरा नंबर 3000, 3035, 30241 और 3045 पाकिस्‍तान (पीओके) के मकबूजा के तहत आता है. मगर, रक्षा मंत्रालय जमीन के कथित मालिक को किराया चुकाता जा रहा है. 122 कनाल और 18 मार्ला वाली जमीन सेना के कब्‍जे में दिखाई गई थी. अब सीबीआई इस बात की जांच करेगी कि जमीन का कोई मालिक है या सिर्फ कागज पर ही उसे दिखाकर यह फर्जीवाड़ा हो रहा था.


प्राथमिकी के अनुसार एक सैन्य अधिकारी, संपदा अधिकारी एवं अन्य अधिकारियों का बोर्ड उसे सौंपे गये जाली कागजातों की वजह से 122 करनाल जमीन के लिए 4.99 लाख रुपये किराया देता रहा. इस मामले में सरकारी खजाने को छह लाख रपये का नुकसान हुआ.


Tags:    

Sonalika Azad ( 543 )

Tahlka News Contributors help bring you the latest news around you.


  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top