Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

जानिये यूपी के सीएम और दोनों डिप्टी सीएम में क्या समानताएं हैं

 shabahat |  2017-03-18 14:33:08.0

जानिये यूपी के सीएम और दोनों डिप्टी सीएम में क्या समानताएं हैं


तहलका न्यूज़ ब्यूरो

लखनऊ. प्रचंड बहुमत के बाद भारतीय जनता पार्टी देश के सबसे बड़े प्रदेश उत्तर प्रदेश में 19 मार्च को अपनी सरकार बनाने जा रही है. एक सप्ताह तक लगातार मुख्यमंत्री के चेहरे को लेकर हुए मंथन के बाद अंतत: फायर ब्रांड सांसद योगी आदित्य नाथ का नाम फ़ाइनल हो गया. योगी आदित्यनाथ कल शपथ ग्रहण कर उत्तर प्रदेश सरकार के मुखिया हो जायेंगे. योगी आदित्यनाथ की सरकार में केशव प्रसाद मौर्या और डॉ. दिनेश शर्मा उप मुख्यमंत्री होंगे.

उत्तर प्रदेश की सियासत में यह पहला मौक़ा होगा कि सरकार में मुख्यमंत्री की मदद के लिये दो उपमुख्यमंत्री होंगे. मुख्यमंत्री और उप मुख्यमंत्री तीनों युवा हैं. प्रशासनिक अनुभव की बात करें तो डॉ. दिनेश शर्मा के पास ही बतौर मेयर प्रशासनिक अनुभव है. डॉ. दिनेश शर्मा की विशेषता यह भी है कि वह हिन्दुओं और मुसलमानों दोनों में समान रूप से स्वीकार्य भी हैं. ज़ाहिर है कि यूपी के मुसलमानों और सरकार के बीच डॉ. दिनेश शर्मा ही पुल की भूमिका निभायेंगे.

मुख्यमंत्री और उप मुख्यमंत्रियों में एक समानता यह है कि तीनों ही न तो विधानसभा के सदस्य हैं और न ही विधानपरिषद के सदस्य हैं. इन तीनों को ही अगले छह महीने के भीतर किसी एक सदन का सदस्य बनना होगा. विधानपरिषद की बात करें तो मई 2018 तक वहां कोई सीट खाली होने वाली नहीं है. ऐसे में मुख्यमंत्री और उप मुख्यमंत्रियों के लिए विधानसभा या विधानपरिषद में से किसी एक जगह तीन सीटें खाली करानी होंगी.

उत्तर प्रदेश के नये मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ के सामने सबसे बड़ी चुनौती सूबे में साम्प्रदायिक सद्भाव कायम करने और हर वर्ग को सुरक्षा का अहसास कराने की होगी. योगी की छवि फायर ब्रांड नेता की है. बतौर मुख्यमंत्री उन्हें अपनी छवि शांत और उदार व्यक्ति के रूप में बदलनी होगी. गोरखनाथ मन्दिर के महंत से यूपी के सीएम के रूप में बदलते वक्त पद के अनुरूप उन्हें अपनी छवि को भी बदलना होगा.

Tags:    

shabahat ( 2177 )

Tahlka News Contributors help bring you the latest news around you.


  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top