Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

यूपी: बूचड़खानों पर कार्रवाई के विरोध में चिकन और मटन व्यापारी की पूरे राज्य में हड़ताल

 Sonalika Azad |  2017-03-26 03:55:04.0

यूपी: बूचड़खानों पर कार्रवाई के विरोध में चिकन और मटन व्यापारी की पूरे राज्य में हड़ताल

तहलका न्यूज़ ब्यूरो
लखनऊ.
उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ की सरकार ने अवैध बूचड़खानों और मीट की दुकानों पर कड़ी कार्रवाई की है. इस वजह से अवध के लोगो को शनिवार को शाकाहारी बनना पड़ गया. इसके विरोध में शहर के व्यापारी हड़ताल पर चले गए और शहर में मटन और चिकन की तकरीबन 5,000 दुकानें बंद कर दी गईं. लखनऊ के कई मशहूर नॉनवेज रेस्तरां के मालिकों ने एकजुटता दिखाते हुए अपनी दुकानें बंद रखीं.


अवैध बूचड़खानों के बंद होने के बाद भैंसे के गोश्त की किल्लत के चलते चिकन और मटन के व्यंजन बेच रहे टुंडे और रहीम जैसे मशहूर नामों सहित मांसाहार बेचने वालों ने भी दुकानें बंद कर दी हैं. कुरैशी ने कहा कि बूचड़खानों पर कार्रवाई से मीट विक्रेताओं पर बुरा असर पड़ा है. इस कारोबार में लगे लाखों लोगों के समक्ष रोजी-रोटी का संकट पैदा हो गया है। उन्होंने कहा कि मटन और चिकन विक्रेता पहले ही दुकानें बंद कर चुके हैं। अब मछली विक्रेताओं को भी साथ लेने की कोशिश हो रही है और वे भी जल्द हमारे साथ आंदोलन में शामिल होंगे.



लखनऊ म्युनिसिपल कॉर्पोरेशन के अधिकारी एके राव ने सक्सेना के आरोपों को खारिज कर दिया. उन्होंने कहा,'602 में 340 लाइसेंसों को रिन्यू कर दिया गया है और 130 को कैंसल कर दिया गया है क्योंकि वे सुप्रीमकोर्ट की गाइडलाइन्स का उल्लंघन कर रहे थे. सुप्रीम कोर्ट ने निर्देशों के मुताबिक किसी शैक्षणिक या धार्मिक संस्थान के पास कसाई की दुकान नहीं लगाई जा सकती। बाकी अर्जियां उन दुकानों के लिए थीं जहां भैंस का मांस बिकता है। हम उन्हें लाइसेंस नहीं दे सकते क्योंकि शहर में कोई वैध बूचड़खाना नहीं है.




Tags:    

Sonalika Azad ( 543 )

Tahlka News Contributors help bring you the latest news around you.


  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top