Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

LIVE: पीएम मोदी ने कहा- यूपी में तार तो हैं, बिजली नहीं

 Girish |  2017-03-03 07:58:06.0

LIVE: पीएम मोदी ने कहा- यूपी में तार तो हैं, बिजली नहीं

तहलका न्‍यूज ब्‍यूरो
मिर्जापुर: पीएम नरेंद्र मोदी शुक्रवार को यूपी के मिर्जापुर में चुनावी रैली को संबोधित कर रहे हैं। यहां के चंगईपुर में जनसभा में आई भीड़ से गदगद पीएम मोदी ने कहा कि आज सवाल इसका नहीं है कि सरकार किसकी बनेगी। यूपी में हर कोई कह रहा है कि यह चुनाव नहीं अवसर है। सपा, बसपा और कांग्रेस से मुक्ति का अवसर है। अगर यूपी आगे बढ़ जाये, यहां से गरीबी मिट जाए तो देश के किसी कोने से में गरीबी नहीं बचेगी। उत्तर प्रदेश अगर अलग देश होता तो, जनसंख्या के आधार पर दुनिया का सबसे बड़ा पांचवां देश होता। उत्तर प्रदेश में इतनी ताकत है कि वो अकेला ही पूरे भारत को आगे ले जा सकता है।



पीएम मोदी ने कहा कि यह चुनाव हार-जीत से ऊपर है। इस चुनाव का मुद्दा है कि यूपी के नौजवानों का भविष्‍य कौन सुरक्षित करेगा। महिलओं को सुरक्षा कौन देगा। पीएम मोदी ने कहा कि सीएम अखिलेश यादव आजकल मुझे भी काम बता रहे हैं। उन्‍होंने कहा कि मुझे नहीं पता किसकी खाट खड़ी होगी। पीएम मोदी ने कहा कि यूपी में तार तो है लेकिन बिजली नहीं हैं। लेकिन जनता ने तार बिछा रखी है, 11 मार्च को उससे सपा-बसपा और कांग्रेस को करंट लगने वाली है।

राहुल गांधी की खाट सभा पर चुटकी लेते हुए पीएम मोदी ने कहा कि खाट सभा से वहां के लोगों ने खाट उठा कर ले गए, क्योंकि उन्हें मालूम था खाट उन्हीं की है। खटिया हो या कटिया, आप तो यहां से जाने वाले है, जनता ने मन बना लिया है।

पीएम मोदी ने कहा कि यूपी में हर चीज का रेट तय है, यहां भ्रष्टाचार दीमक की तरह घुस गया है। चार प्रकार के भ्रष्टाचार यूपी में हैं...नजराना, सुकराना, हकराना और जबराना। भ्रष्टाचार और भाई-भतीजावाद की वजह से यहां के युवा बेरोजगार हैं। मिर्जापुर के पीतल उद्योग पर बोलते हुए पीएम मोदी ने कहा कि इस सरकार ने पीतल उद्योग को बर्बाद कर दिया, इसलिए यहां के युवा बेरोजगारी की मार झेल रहे हैं।

अखिलेश यादव पर निशाना साधते हुए पीएम मोदी ने कहा कि जो अपने पिता की बातों को पूरा नहीं करता हो, वो जनता का काम क्या करेंगे। पीएम मोदी ने मिर्जापुर के लोंगों से सवाल पूछा कि जब यहां उत्तर प्रदेश में 13 साल पहले मुलायम सिंह की सरकार थी तो मुलायम सिंह ने 13 साल पहले मिर्जापुर में पुल निर्माण का आधारशिला रखे था वो अभी तक बना क्या? लेकिन अभी तक नहीं बना, ये काम नहीं कारनामे बोल रहे हैं। यही पुल अगर सैफई में बनना होता तो, 13 साल तक इंतजार नहीं करना पड़ता।

पीएम मोदी ने कहा कि अखिलेश जी का 'काम बोलता है' या मिर्जापुर का पत्थर बोलता है। बहन जी मिर्जापुर की पत्थरों में आज भी खड़ी हैं। मूर्तियां बनवाने के लिए मिर्जापुर से पत्थर पिछली दरवाजों से ले गए, लेकिन जांच के दौरान राजस्थान का नाम दिया गया। बताइए क्या यह सही है? जिनको मिर्जापुर के पत्थरों से नफरत हो, उनको क्या आप वोट देंगे?' यहां की एक भी सीट पर इन लोगों की जीत नहीं होनी चाहिए, ताकि इन्हें पता चले उपेक्षा करने का परिणाम क्या होता है?

Tags:    

Girish ( 4001 )

Tahlka News Contributors help bring you the latest news around you.


  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top