Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

यूपी चुनाव : आख़री चरण में भी धन्ना सेठों और अपराधियों का बोलबाला

 shabahat |  2017-03-05 14:44:34.0

यूपी चुनाव : आख़री चरण में भी धन्ना सेठों और अपराधियों का बोलबाला


तहलका न्यूज़ ब्यूरो

लखनऊ. उत्तर प्रदेश का चुनावी महासंग्राम अपने आख़री चरण में पहुँच चुका है. 8 मार्च को सातवाँ और आख़री चरण है. इस आख़री चरण में 7 जिलों की 40 सीटों के लिये वोट डाले जाएंगे. इन 40 सीटों के लिये 535 उम्मीदवार अपनी किस्मत आजमाने मैदान में उतरे हैं. सातवें और आख़री चरण में भी जनप्रतिनिधि बनने की होड़ में धन्ना सेठ भी लगे हैं और आपराधिक प्रष्ठभूमि से जुड़े लोग भी. किसी भी राजनीतिक दल ने खुद को यह दावा करने के लायक नहीं छोड़ा है कि उसकी पार्टी अपराधियों से मुक्त है.

सातवें चरण में अपनी किस्मत आजमाने उतरे 535 उम्मीदवारों में से 115 उम्मीदवारों के खिलाफ आपराधिक मुक़दमे चल रहे हैं. 95 उम्मीदवारों के खिलाफ तो गंभीर अपराधों के मुक़दमे चल रहे हैं. आपराधिक मुक़दमों से लैस उम्मीदवारों पर भरोसा जताने में कोई भी राजनीतिक दल अछूता नहीं है. भाजपा के 31 में से 13 उम्मीदवार ऐसे हैं जिन पर आपराधिक मुक़दमे चल रहे हैं. बहुजन समाज पार्टी ने 40 उम्मीदवारों को मैदान में उतारा है. इनमें 17 उम्मीदवारों पर आपराधिक मुक़दमे हैं. समाजवादी पार्टी ने 31 में से 19 आपराधिक मुक़दमे वाले प्रत्याशी चुने हैं. कांग्रेस ने 5, रालोद ने 4, सीपीआई ने एक और 22 निर्दलीय मैदान में हैं और खुद को सबसे अच्छा जन प्रतिनिधि होने का दावा करने में जुटे हैं.


धन्ना सेठों की बात करें तो 132 करोड़पति उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं. जौनपुर से बसपा के टिकट पर चुनाव मैदान में उतरे भोलानाथ 51 करोड़ रुपये की सम्पत्ति के साथ करोड़पति उम्मीदवारों की सूची में शीर्ष पर हैं. मिर्ज़ापुर से भाजपा के टिकट पर मैदान में उतरे शुचिस्मिता मौर्या 46 करोड़ 85 लाख रुपये की सम्पत्ति के साथ दूसरे पायदान पर हैं. जबकि गाजीपुर से समाजवादी पार्टी के टिकट पर चुनाव लड़ रहे सुभाष पासी 40 करोड़ 82 लाख रुपये की सम्पत्ति के साथ तीसरे पायदान पर हैं.

जौनपुर के मछली शहर से बसपा के टिकट पर चुनाव लड़ रहीं सुशीला के पास 35 करोड़ 63 लाख रुपये की सम्पत्ति है. वाराणसी से बसपा के टिकट पर चुनाव लड़ रहे बाबूलाल के पास 32 करोड़ 28 लाख रूपये की सम्पत्ति है. जौनपुर के शाहगंज से समाजवादी पार्टी के टिकट पर चुनाव लड़ रहे शैलेन्द्र यादव ललई के पास 15 करोड़ 74 लाख रूपये की सम्पत्ति है. गाजीपुर से भाजपा के टिकट पर मैदान में उतरीं सुनीता के पास 15 करोड़ 38 लाख रुपये की सम्पत्ति है. बनारस से बसपा के टिकट पर चुनाव लड़ रहे प्रमोद के पास 14 करोड़ 65 लाख रुपये की सम्पत्ति है.

इस चुनाव में गाजीपुर से लोकदल के टिकट पर चुनाव लड़ रहे सत्येन्द्र यादव के पास 10 करोड़ 30 लाख रुपये की सम्पत्ति है लेकिन उन्होंने इनकम टैक्स रिटर्न फ़ाइल नहीं किया है. बनारस से बीजेपी के टिकट पर मैदान में उतरे सुरेन्द्र नारायण सिंह के पास भी साढ़े 4 करोड़ रुपये की सम्पत्ति है लेकिन यह भी इनकम टैक्स रिटर्न फ़ाइल नहीं करते हैं. मिर्ज़ापुर से बहुजन समाज पार्टी के टिकट पर चुनाव लड़ रही द्रौपदी देवी के पास भी करीब 4 करोड़ रुपये की ही सम्पत्ति है लेकिन इनकम टैक्स रिटर्न फ़ाइल करने की ज़रूरत इन्हें भी नहीं लगती.

बहुजन समाज पार्टी ने सबसे ज्यादा 32 करोड़पति उम्मीदवार मैदान में उतारे हैं. भारतीय जनता पार्टी ने 23, समाजवादी पार्टी ने 21, कांग्रेस और रालोद ने 7-7 और लोकदल ने 2 करोड़पति चुनाव में उतारे हैं. अन्य पार्टियों से 20 और 18 निर्दलीय करोड़पति उम्मीदवार चुनाव लड़ रहे हैं.

Tags:    

shabahat ( 2177 )

Tahlka News Contributors help bring you the latest news around you.


  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top