Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

जब संसद में प्रधानमंत्री से पूछा गया कि कब तक बनने लगेगी चाँद पर बियर

 shabahat |  2017-03-17 15:57:37.0

जब संसद में प्रधानमंत्री से पूछा गया कि कब तक बनने लगेगी चाँद पर बियर


नई दिल्ली. ब्रहस्पतिवार को तृणमूल कांग्रेस के सांसद शिशिर कुमार अधिकारी ने शून्यकाल के दौरान संसद में अपने सवाल से सबको चौंका दिया. उन्होंने पूछा कि क्या कोई भारतीय अन्तरिक्ष यान चाँद पर बियर बनाने जा रहा है. अगर यह योजना वाकई है तो यह भी बताया जाये कि वहां खमीर टेस्ट कितना व्यावहारिक है. सीधे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से तृणमूल के सांसद द्वारा पूछे गये इस सवाल पर कई सांसद भौंचक्के रह गये लेकिन सवाल पूछने वाले सांसद को अपने सवाल का माकूल जवाब मिला.

तृणमूल सांसद शिशिर अधिकारी को प्रधानमन्त्री कार्यालय में राज्यमंत्री जितेन्द्र सिंह ने जवाब देते हुए कहा कि भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) की चांद पर बीयर बनाने जैसी कोई योजना नहीं है. लेकिन इस तरह की एक योजना का प्रस्तालव टीम इंडस का था, जो निजी तौर पर मून मिशन के लिए काम कर रही टीम है. उन्होंने बताया कि एक कमर्शियल लॉन्च एग्रीमेंट के तहत इसरो के पोलर सैटेलाइट लॉन्च वेहिकल के साथ इंडस स्पे सक्राफ्ट को लांच किए जाने का प्रस्ता व है. जितेन्द्र सिंह ने बताया कि यह खोज दरअसल इस बात को लेकर थी कि अंतरिक्ष यान में खमीर और किण्वकन की प्रक्रिया से बीयर बनाना संभव है या नहीं.

सितम्बर 2015 में जब नासा के वैज्ञानिकों ने यह दावा किया कि उन्हेंन मंगल ग्रह पर पानी की मौजूदगी के पुख्ता प्रमाण मिले हैं. इसके फ़ौरन बाद टीम इंडस ने चांद पर बीयर से जुड़ी योजना टीम बना ली. इस योजना के केन्द्र में बीयर बनाना नहीं बल्कि अंतरिक्ष में खमीर कितनी देर तक जीवित रहता है यह पता करना था.

Tags:    

shabahat ( 2177 )

Tahlka News Contributors help bring you the latest news around you.


  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top