Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

मुलायम और अखिलेश से पूछे केशव ने सवाल

 Sabahat Vijeta |  2016-09-14 14:57:02.0

keshav prasad maurya


लखनऊ. भारतीय जनता पार्टी प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य ने समाजवादी पार्टी में मचे घमासान पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि मुलायम सिंह यादव अनुभवी और मझे हुए नेता है उनको यह पता कि प्रदेश में व्याप्त भ्रष्टाचार, अपराध, गुण्डाराज, जमीनों पर अवैध कब्जे और महिलाओं पर हो रहे अपराध के कारण सपा सरकार बुरी तरह फेल हो गयी है। इसलिए जनता का ध्यान इस तरफ से हटाने के लिए और अपने पुत्र प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की इमेज बिल्डिंग का यह शुद्ध नाटक कर रहे है। भाजपा अध्यक्ष ने समाजवादी पार्टी के सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव तथा मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से इन घटनाक्रमों पर सवाल किये है।


1- यदि मुलायम सिंह यादव यह समझते है कि उनके पुत्र अखिलेश यादव सरकार चलाने के काबिल नहीं है और वो बुरी तरह फेल हो गये है तो पुत्रमोह त्याग कर उन्हें त्याग पत्र देने का निर्देश क्यों नहीं देते हैं ?


2- मुलायम सिंह यादव सार्वजनिक मंचों से सरकार के मंत्रियों के भ्रष्टाचार, पार्टी के नेताओं और विधायकों द्वारा जमीनों पर कब्जे, दबंगई, वसूली और अपराध की बात स्वीकार कर चुके है और ये भी स्वीकार कर चुके है कि समाजवादी पार्टी चुनाव में नहीं जीतेगी, उसके बावजूद पुत्रमोह में उ.प्र. की 22 करोड़ जनता के साथ अन्याय आप क्यों कर रहे है ?


3- उन्होंने मुख्यमंत्री से सवाल किया कि यदि वह अपने पिता और चाचाओं से नाराज है तो गायत्री प्रजापति के साथ शिवपाल सिंह यादव को तथा अपने मंत्रीमण्डल के भ्रष्टाचार और जमीनों के कब्जे में लिप्त दर्जनों मंत्रियों को क्यों नहीं बर्खास्त किया ?


4- दीपक सिंघल को मुख्यसचिव नियुक्ति के समय उ.प्र. के मुख्यमंत्री आप थे या कोई और ? यदि भ्रष्ट आईएएस अधिकारियों की सूची में से दीपक सिंघल को आपने उ.प्र. का मुख्य सचिव नियुक्त किया तो अब यह नाटक क्यों ?


5- यदि गायत्री प्रजापति द्वारा किये गये भ्रष्टाचार की जांच की आंच आने का डर उन्हें नहीं था तो सीबीआई की जांच रूकवाने उच्चन्यायालय क्यों गये ?


6- भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि मुख्यमंत्री अखिलेश यादव जनता का ध्यान बटाने के बजाय विधानसभा भंग करने की सिफारिश करने का साहस करिये। भारतीय जनता पार्टी चुनाव के लिए तैयार है। उ.प्र. में व्याप्त अराजकता, गुण्डाराज, अपराध, महिलाओं पर बढ़ते अत्याचार, अरबों रूपये की जमीनो पर अवैध कब्जे और अपने मंत्री मण्डल के साथियों द्वारा किये जा रहे भ्रष्टाचार को रोकने में सक्षम नहीं है तो कुर्सी छोड़िए और जनता को निर्णय करने दीजिए।


भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि सैफई परिवार द्वारा सरकार की असफलता छिपाने का कुछ दिन-कुछ घंटो का नाटक है। प्रदेश में हुए जनधन की लूट तथा अराजकता और अपराध से त्रस्त उ.प्र. की जनता को भ्रमित करने का एक असफल प्रयास है। लेकिन जनता सच जानती है जनता मालिक है अपना निर्णय सुनायेंगी। इस पूरे घटनाक्रम से यह बात भी प्रमाणिक तौर पर स्पष्ट हो गयी है कि सपा पार्टी और सरकार दोनों के अन्दर सत्ता और स्वार्थ के बंदरबाट की लड़ाई अराजक हो गयी हैं जिसमें प्रदेश के ब्यूरोक्रेसी को भी टूल बनाकर जनता के सारे हितो की अनदेखी करने का अपराध किया है।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top