Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

यूपी विधानसभा चुनाव: जीत की चाभी मुसलमानों के पास है

 Abhishek Tripathi |  2016-11-21 08:25:00.0

muslims_up_polls
अभिषेक त्रिपाठी

लखनऊ. अगले साल 2017 में यूपी विधानसभा चुनाव होना है। पूरे देश की निगाहें इस राज्य के चुनाव पर होती हैं। जानकार कहते हैं दिल्ली का रास्ता यूपी से ही होकर गुजरता है। चुनाव होने में अब समय कम है तो सभी राजनीतिक दल तैयारी में जुट गए हैं। आंकड़े कहते हैं कि यूपी में मुसलमानों की आबादी करीब 20 फीसदी है। ये 20 फीसदी लोग ही जब एकजुट होकर जिस पार्टी को वोट देते हैं, सामान्यतया उसी की सरकार बनती है। मुस्लिम वोट यूपी चुनाव में एक अहम रोल निभाते हैं।


सूत्रों का कहना है कि यूपी विधानसभा की 403 सीटों में से 125 सीटों पर मुस्लिम वोट बहुत अहम होंगे। इन 125 सीटों पर मुस्लिम वोट अपना-अपना रोल निभाएंगे। वहीं, बीजेपी से लेकर सपा और बसपा तक की निगाहें इन 125 सीटों पर ही टिकी हैं। उन्हें भी इन सीटों की अहमियत का अंदाजा है।


सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव के बारे में कहा जाता है कि वे मुस्लिमों के पक्षधर हैं और इसलिए उनकी पार्टी को मुस्लिम वोट भी मिलते हैं। 2012 की सपा सरकार भी मुस्लिम वोट बैंक के चलते ही बनी थी। दिल्ली की जामा मस्जिद के शाही इमाम सैयद अहमद बुखारी, मौलाना सलमान नदवी जैसे बड़े मुस्लिम नेता हमेशा मुलायम के साथ ही देखे जाते हैं।


मायावती कर रही हैं सेंधमारी
बसपा सुप्रीमो मायावती ने यूपी चुनाव 2017 के लिए दलित वोट बैंक से ज्यादा मुस्लिम वोट बैंक की ओर फोकस किया है। अपनी रैलियों में मायावती ने खुले शब्दों में कहा है कि मुस्लिम बसपा में सुरक्षित हैं और सपा में असुरक्षित। वेस्ट यूपी में बसपा के वरिष्ठ नेता और इकलौता मुस्लिम चेहरा नसीमुद्दीन सिद्दीकी भी मुस्लिमों को रिझाने में जुट हैं। इस काम के लिए उन्होंने अपने बेटे को भी मैदान में उतार दिया है।


सपा डर रही है
मुलायम सिंह यादव को एक डर सता रहा है। पिछले कई दिनों से सपा में जो महाभारत छिड़ी है, उसे देखकर मुलायम भी शायद डर गए हैं। सूत्रों की मानें तो, मुलायम को इस बात का डर है कि सपा में छिड़ी लड़ाई का फायदा कहीं मायावती को न मिल जाए।


कांग्रेस के भी निशाने पर मुस्लिम वोट बैंक
कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने यूपी चुनाव को देखते हुए यूपी के सभी जिलों में किसान यात्रा की और खाट सभाएं भी की। वहीं, कांग्रेस का ये भी मानना है कि इस बार के यूपी चुनाव में मुस्लिम कांग्रेस को वोट देंगे। फिलहाल, ऐसा कुछ होता अभी दिख नहीं रहा है।


बीजेपी को हो सकता है नुकसान
बीजेपी अपनी कट्टरपंथी सोच के लिए जानी जाती है। इसलिए बीजेपी का मुस्लिम वोट बैंक से हमेशा 36 का आंकड़ा रहता है। ऐसे में बीजेपी यूपी चुनाव को लेकर विकास की बात कर रही है। रोजगार के वादे कर रही है। सूत्रों की मानें तो, इन बातों से भी बीजेपी की ओर मुस्लिम वोट बैंक नहीं जाएगा।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top