Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

सिद्धू का मास्टर स्ट्रोक-'आवाज-ए-पंजाब', कांग्रेस आप को झटका

 Vikas Tiwari |  2016-09-02 11:10:31.0

नवजोत सिद्धूचंडीगढ़. : आगले साल होने वाले पंजाब विधानसभा चुनाव से पहले भाजपा पार्टी और राज्‍यसभा सदस्यता से इस्‍तीफा देने के बाद राजनेता नवजोत सिद्धू ने अकाली दल के नेता परगट सिंह (पूर्व हॉकी खिलाड़ी) और अकाली दल के विधायक सिमरजीत सिंह बैंस के साथ मिल कर नए फ्रंट ‘आवाज-ए-पंजाब’ के गठन की घोषणा सोसल नेटवर्किंग साईट पर पोस्टर शेयर कर के की.
लोकसभा चुनाव से नाराज थे सिधु
2014 के आम चुनाव में जब अमृतसर सीट से सिद्धू की जगह अरुण जेटली को टिकट दिया गया तो इन रिश्‍तों की खटास और बढ़ी. ऐसे में स्‍वाभाविक है कि जेटली के चुनाव हारने पर आरोपों के कुछ 'छीटें' सिद्धू पर भी आए थे. ऐसा माना जा रहा है तभी से नवजोत सिद्धू पार्टी से नाराज चल रहे थे.

सिद्धू ने बीजेपी पर साधा निशाना
बीजेपी नेतृत्‍व पर निशाना साधते हुए सिद्धू ने कहा था कि चार इलेक्शन जीतने के बाद राज्यसभा सीट देकर कहा जाता है कि सिद्धू पंजाब से दूर रहो, लेकिन पंछी भी शाम को घोंसले में लौटता है. राष्ट्रभक्त पक्षी भी अपने पेड़ नहीं छोड़ते. दुनिया की कोई भी पार्टी पंजाब से ऊपर नहीं है और कोई भी नफा-नुकसान हो उसे झेलने के लिए नवजोत सिंह सिद्धू तैयार है
कांग्रेस और आप को लगा झटका
भाजपा छोड़ने के बाद सिद्धू दंपति के रुख से लोग अनुमान लगाने लगे कि वो दोनों ही आम आदमी पार्टी में जाने की तैयारी में हैं। खुद केजरीवाल ने सूचना दी कि सिद्धू उनसे मिले थे। सिद्धू दूसरे आप नेताओं से भी संपर्क में थे। वहीं पंजाब कांग्रेस के अध्यक्ष और राज्य के पूर्व सीएम अमरिंदर सिंह ने खुलकर कहा कि सिद्धू का कांग्रेस में स्वागत है। अमरिंदर ने याद दिलाया कि सिद्धू के पिता कांग्रेसी थे। लेकिन पूरा अगस्त बीत जाने के बाद भी सिद्धू आधिकारिक तौर किसी पार्टी से नहीं जुड़े। और अब नए फ्रंट के घोषणा से कांग्रेस और आम आदमी पार्टी को झटका लगा है.

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top