Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

नीतीश बोले- UP के लोग BJP को पहचान ले, इनकी कथनी-करनी में महाअंतर

 Tahlka News |  2016-05-12 10:39:02.0

nitish-vns (1)हलका न्‍यूज ब्‍यूरो
वाराणसी:
बिहार के सीएम नीतीश कुमार गुरुवार को पीएम नरेन्द्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी से मिशन यूपी की शुरुआत की। यहां पिंडरा के नेशनल इंटर कॉलेज में सक्रिय कार्यकर्ता सम्मलेन को संबोधित करते हुए कहा कि बीजेपी अहंकार में डूबी हुई है और दूसरों का मजाक उड़ाना उनकी आदत बन गई है। नीतीश ने कहा कि दो साल पहले जनता ने बीजेपी को प्रचंड बहुमत दिया लेकिन अब वाराणसी के लोगों को भी पता चल चुका है कि उनके साथ क्या हुआ।


उन्होंने मंच से शराबबंदी का मुद्दा उठाया। मोदी और बीजेपी को निशाने पर लेते हुए उन्होंने सवाल किया कि प्रधानमंत्री बीजेपी शासित राज्यों में शराब पर पाबंदी क्यों नहीं लगाते। यही नहीं, उन्होंने बीजेपी पर जनता को ठगने और वादाखि‍लाफी का आरोप भी लगाया।


नीतीश कुमार ने कहा, 'बिहार में शराबबंदी सफल रही है। अब समय आ गया है कि दूसरे राज्य भी शराबबंदी को अमल में लाएं। शराब पर पाबंदी महिलाओं की मांग थी। झारखंड से भी महिलाओं के समूह ने मुझे बुलाया था। 15 मई को मैं शराबबंदी के समर्थन में लखनऊ आ रहा हूं। हम अब यूपी में भी अपने विस्तार की योजना बना रहे हैं। मैं प्रधानमंत्री ने पूछता हूं कि वो बीजेपी शासित राज्यों में शराबबंदी क्यों नहीं लागू करते हैं।'


'शराबबंदी पर बीजेपी राय स्पष्ट करे'
नीतीश कुमार ने आगे कहा, 'शराबबंदी से महिलाएं, बच्चे सब खुश हैं। बीजेपी शराब पर पांबदी को लेकर अपनी राय स्पष्ट क्यों नहीं करती। शराबबंदी की मांग पूरे देश में फैल रही है। यह एक सामाजिक अभि‍यान बन चुका है।


बिहार के मुख्यमंत्री ने कहा कि बिहार की जनता ने विधानसभा में महागठबंधन को जीतकर बीजेपी को सबक सिखा दिया। यूपी के लोग बीजेपी को पहचाने इनके कथनी और करनी में बहुत अंतर है।


नीतीश ने कहा कि जब बिहार चुनाव से पहले आरजेडी, जेडीयू और कांग्रेस का महागठबंधन बना तो बीजेपी ने खूब मजाक उड़ाया, लेकिन बिहार की जनता ने महागठबंधन को प्रचंड बहुमत देकर इनको करार जवाब दिया और एक सबक सिखाया।


सीएम ने बीजेपी पर हमला करते हुए कहा कि लोक सभा चुनाव में काले धन का 15-15 लाख रुपये देने का वादा किया था. उन्होंने कहा था 100 दिनों के अंदर कालाधन आ जाएगा। और लोगों को उनका हिस्सा मिलेगा। लेकिन दो साल बाद क्या हुआ हमने तो कहा कि 15 लाख न सही 10-15 हजार ही दे दो।


नीतीश ने कहा कि अब बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष कहते हैं कि कालेधन वाला बयान महज एक जुमला था।


यह भी पढ़ें: वाराणसी में PM पर बरसे नीतिश, पटना में साथी ने कहा- बिहार में नहीं कोई महागठबंधन

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top