Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

यूपी चुनाव: नोटबंदी से राजनीतिक दलों को लग सकता है तगड़ा झटका

 Abhishek Tripathi |  2016-11-13 03:24:15.0

up_pollsतहलका न्यूज ब्यूरो
नई दिल्ली. यूपी समेत देश के पांच राज्यों में अगले साल विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। ऐसे में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 500 और 1000 रुपए के नोट बंद करने के फैसले से तमाम राजनीतिक दल एक दूसरे को तगड़ा झटका लगने का आरोप-प्रत्यारोप में जुटे हैं। ऐसे में सवाल है कि तो क्या वाकई इस फैसले से विधानसभाव चुनाव में राजनीतिक दलों की रणनीति से लेकर प्रचार तक सबपर असर पड़ सकता है। जानकारों की मानें तो पीएम मोदी का यह फैसला कई राजनीतिक दलों के मंसूबे पर पानी फेर सकता है तो वहीं कई पार्टियों को अपनी रणनीति बदलने पर मजबूर भी कर सकता है।


वोट के लिए बंटते हैं नोट
ये कहना शायद गलत नहीं होगा कि भारत जैसे लोकतांत्रिक देश में आज भी वोट के बदले नोट का परंपरा जोर शोर से चली आ रही है। खुद चुनाव आयोग ने भी इसे स्वीकार किया है कि तमाम राजनीतिक दल वोटर्स को लुभाने के लिए तरह-तरह के हथकंडे अपनाते हैं। ऐसे में एक्सपर्ट्स का भी मानना है कि मोदी सरकार के इस फैसले का असर यूपी समेत पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव लड़ने वाली पार्टियों की तैयारियों पर भी पड़ सकता है। हालांकि पार्टियां केंद्र सरकार के इस कदम से खुद पर किसी तरह का असर होने से मना कर रही है।


बड़ी पार्टियों पर पड़ेगा इसका ज्यादा असर: एसवाई कुरैशी
केंद्र सरकार के इस फैसले पर पूर्व मुख्य चुनाव आयुक्त शहाबुद्दीन याकूब कुरैशी ने कहा, '500 और 1000 रुपए के नोट बंद होने का यूपी विधानसभा चुनाव पर बहुत गहरा असर पड़ेगा। हालांकि, राजनीतिक दल इसका कुछ ना कुछ हल जल्द से जल्द निकाल लेंगे, लेकिन इसके बावजूद अगले कुछ दिनों तक इससे यूपी चुनाव प्रचार प्रभावित रहेगा।'


नोट बंद होने से राजनीतिक दलों में खलबली
बता दें कि अगले साल यानी 2017 में यूपी के साथ-साथ पंजाब, उत्तराखंड, गोवा और मणिपुर में भी विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। इससे पहले 500 और 1000 के नोट बंद होने से राजनीतिक दलों में खलबली मच गई है। वैसे मोदी सरकार के इस फैसले के बाद चुनाव को लेकर कलेक्ट किया गया फंड जो 500 और 1000 रुपए के रुप में होगा उसे एक्सचेंज करना राजनीतिक दलों के लिए आसान नहीं होगा। ऐसे में देखना ये है कि राजनीतिक दल कैसे इस समस्या से निजात पाती है?

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top