Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

कश्मीर में अशांति के लिए पाकिस्तान जिम्मेदार : राजनाथ

 Sabahat Vijeta |  2016-07-21 11:23:17.0

rajnath_singh
नई दिल्ली, 21 जुलाई. केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने जम्मू एवं कश्मीर में अशांति के लिए गुरुवार को पाकिस्तान को जिम्मेदार ठहराते हुए कहा कि सरकार घाटी में प्रदर्शनकारियों को नियंत्रित करने के लिए सुरक्षाबलों द्वारा इस्तेमाल में लाई जा रही 'पेलेट गन' का विकल्प खोजने के लिए एक समिति का गठन करेगी। राजनाथ ने लोकसभा में संक्षिप्त चर्चा का जवाब देते हुए कहा, "इस बात से इनकार नहीं किया जा सकता कि जम्मू एवं कश्मीर की मौजूदा स्थिति बिगाड़ने में हमारा पड़ोसी (पाकिस्तान) ही सीधे तौर पर जिम्मेदार है।"

उन्होंने कहा कि आज देश जिस आतंकवाद से जूझ रहा है, वह पाकिस्तान प्रायोजित है।

उन्होंने कहा, "पाकिस्तान धर्म के आधार पर अस्तित्व में आया था। लेकिन, वह स्वयं को एकजुट रखने में असफल रहा।"


राजनाथ ने इस बात से इनकार किया कि घाटी में प्रदर्शनकारी भीड़ को नियंत्रित करने में सुरक्षाबलों ने बहुत कठोर कदम उठाए हैं।

उन्होंने कहा कि निजी तौर पर वह हमेशा इस पक्ष में रहे हैं कि स्थिति को नियंत्रित करने के लिए कम से कम ताकत का इस्तेमाल किया जाए।

उन्होंने स्वीकार किया, "ऐसा हो सकता है कि सुरक्षबलों द्वारा जरूरत से अधिक सख्ती के कुछ अपवादित मामले हो सकते हैं।"

उन्होंने छर्रे वाली गोलियों (पेलेट बुलेट) और घातक हथियारों के इस्तेमाल के बारे में कहा कि मंत्रालय जल्द ही इस तरह के हथियारों के वैकल्पिक इस्तेमाल के बारे में सुझाव के लिए एक विशेषज्ञ समिति का गठन करेगा।

गौरतलब है कि र्छे वाली गोलियों के इस्तेमाल से घाटी में बड़ी संख्या में लोगों की आंखें जख्मी हुई हैं।

घाटी में आठ जुलाई से उग्र भीड़ और सुरक्षाबलों के बीच झड़पों में 40 लोगों की मौत हो चुकी है।

राजनाथ ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की लोकप्रिय पक्तियों 'चिंगारी का खेल खेलना खतरा होता है' का उल्लेख करते हुए पाकिस्तान को आतंकवाद को प्रायोजित करने में उसकी भूमिका पर चेताया।

राजनाथ ने कहा कि राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) सरकार कश्मीर के लिए कश्मीरियत, जम्हूरियत और इंसानियत के वाजपेयी के रोडमैप का पालन कर रही है लेकिन इसमें अमानवीयता और हिंसा की कोई जगह नहीं है।

उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार अकेले ही हिंसाग्रस्त राज्य में शांति बहाल नहीं कर सकती। इसके लिए सभी पक्षों का सहयोग जरूरी है।

उन्होंने हिजबुल मुजाहिदीन आतंकी बुरहान वानी के मारे जाने के बाद कश्मीर में तनाव पैदा करने के सिलसिले में पाकिस्तान स्थित आतंकी हाफिज सईद और सैयद सलाहुद्दीन का उल्लेख किया। (आईएएनएस)|

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top