Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

पंडित नेहरु की नीतियों से आत्मनिर्भर बना भारत

 Sabahat Vijeta |  2016-11-14 15:10:30.0

pt-jawaharlal-nehru


लखनऊ. आधुनिक भारत के महान शिल्पी-पूर्व प्रधानमंत्री, भारत रत्न पं. जवाहर लाल नेहरू की जयन्ती (14 नवम्बर) के मौके पर आज प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में प्रदेश कांग्रेस अनुशासन समिति के चेयरमैन एवं पूर्व गृहमंत्री रामकृष्ण द्विवेदी की अध्यक्षता में जयन्ती समारोह का आयोजन किया गया। इस मौके पर मुख्य अतिथि के रूप में उ.प्र. कांग्रेस समन्वय समिति के चेयरमैन एवं सांसद प्रमोद तिवारी मौजूद रहे। समारोह का संचालन प्रदेश कांग्रेस कांग्रेस के महामंत्री हनुमान त्रिपाठी ने किया। कार्यक्रम की शुरूआत पंडित नेहरू के चित्र पर पुष्पांजलि से हुई।


प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री एवं कम्युनिकेशन विभाग के वाइस चेयरमैन मारूफ खान ने बताया कि इस मौके पर जयन्ती समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में मौजूद प्रमोद तिवारी सांसद ने सम्बोधित करते हुए कहा कि आज भारत देश की आर्थिक, औद्योगिक एवं सामरिक क्षेत्र में आत्मनिर्भरता पं. नेहरू की देन है। उन्होने कहा कि पं. नेहरू दूरदर्शी थे। आजादी के आन्दोलन में जहां उन्होने गांधी जी के साथ युवाओं को आजादी के अन्दोलन जोड़ा वहीं किसानों को भी आजादी से जोड़कर आन्दोलन को सशक्त बनाया। आजादी के बाद पं. नेहरू ने भारत की विदेशी वस्तुओं पर निर्भरता को पूरी तरह समाप्त करके योजनाएं बनाकर, उद्योग लगाकर देश को पूरी तरह न सिर्फ आत्मनिर्भर बनाया बल्कि हमारे देश से विश्व के अनेकों देश को निर्यात भी किया जाने लगा। उन्होने कहा कि गुटनिरपेक्ष आन्दोलन खड़ा करके पं. नेहरू ने भारत को विश्व पटल पर स्थापित किया। उन्होने कहा कि आजादी के बाद पं. नेहरू ने हमारे देश में सेक्युलरिज्म को स्थापित करने में सबसे बड़ा योगदान दिया और देश भर में फैली अशांति एवं धार्मिक उन्माद को शांत कर देश को एकजुट करके सशक्त बनाया और विकास का मार्ग प्रशस्त किया किन्तु आज देश में सत्तासीन शक्तियां पं. नेहरू की सेक्युलरिज्म को नुकसान पहुंचा रही हैं जिससे देश की एकता और अखण्डता को खतरा पैदा हो गया है। ऐसे में हम सभी को पं. नेहरू के उस समाजवाद को मजबूत करने की आवश्यकता है।


जयन्ती समारोह को सम्बोधित करते हुए प्रदेश कांग्रेस के अनुशासन समिति के चेयरमैन एवं पूर्व गृहमंत्री रामकृष्ण द्विवेदी ने कहा कि पं. नेहरू युग दृष्टा थे। उन्होने आजादी के बाद घोर निराशा में डूबे भारत को निराशा से उबारकर सभी क्षेत्रों में आत्मनिर्भर बनाया। आज का विकसित भारत पं. नेहरू की दूरदर्शी नीतियों का परिणाम है।


इस मौके पर प्रदेश कांग्रेस कम्युनिकेशन विभाग के चेयरमैन एवं पूर्व मंत्री सत्यदेव त्रिपाठी ने कहा कि पं. नेहरू भारत में समाजवाद के सबसे बड़े पुरोधा थे। उन्होने कहा कि पं. नेहरू देश की आजादी में, आजाद भारत में उनका जो योगदान रहा है वह जितना कल महत्वपूर्ण था, आज भी उतना ही महत्वपूर्ण है और उसकी प्रासंगिकता भविष्य में भी उतनी ही रहेगी।


इस मौके पर प्रदेश कांग्रेस कम्युनिकेशन विभाग के वाइस चेयरमैन मारूफ खान एवं मीडिया पैनलिस्ट ब्रजेन्द्र कुमार सिंह ने पं. नेहरू के व्यक्तित्व एवं कृतित्व पर प्रकाश डालते हुए पुष्पांजलि अर्पित की।


श्री खान ने बताया कि जयन्ती समारोह में प्रमुख रूप से विधान परिषद सदस्य दीपक सिंह, पूर्व विधायक श्यामकिशोर शुक्ल, प्रदेश कांग्रेस की उपाध्यक्ष सुश्री अनुसुइया शर्मा, महामंत्री प्रमोद सिंह, द्विजेन्द्र त्रिपाठी, आर.ए. प्रसाद, सुबोध श्रीवास्तव, संजय दीक्षित, बोधलाल शुक्ला एडवोकेट, सम्पूर्णानन्द मिश्र, डा. हिलाल अहमद, श्रीमती नूतन बाजपेयी, गिरजाशंकर अवस्थी, विजय बहादुर, प्रदीप कनौजिया, अमित श्रीवास्तव त्यागी, सुरेश चन्द्र वर्मा, श्रीमती सिद्धिश्री, हरिओम कठेरिया, अरशी रजा, नवाब कम्बर कैसर, वी.एन. त्रिपाठी एडवोकेट, श्रीमती मनु सिंह, मनोज तिवारी, श्रीमती अनन्ता तिवारी, संजय सिंह, अफजाल हैदर, सैफुल इस्लाम, रवीन्द्र चन्द, शिव भूषण मिश्र आदि सैंकड़ों कांग्रेसजन मौजूद रहे।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top