Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

PM मोदी ने कहा-कल देश के सामने मेरी भी परीक्षा

 Tahlka News |  2016-02-28 05:13:46.0

mann-ki-baat_story_647_022816081133


तहलका न्यूज ब्यूरो
नई दिल्ली, 28 फरवरी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को अपने मासिक रेडियो कार्यक्रम 'मन की बात' में बोर्ड परीक्षा की तैयारी कर रहे छात्रों को परीक्षा के दौरान सकारात्मक बने रहने का सुझाव दिया। उन्होंने छात्रों से तनाव एवं दबाव से दूर रहने को कहा है। उन्होंने कहा कि कल देश के सामने मेरी भी परीक्षा है। मोदी के रेडियो कार्यक्रम में क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर और शंतरज चैम्पियन विश्वनाथन आनंद ने भी छात्रों को संदेश दिए।


मोदी ने कहा, "दूसरों की उम्मीदों के बोझ तले मत दबना। अपने स्वयं के लक्ष्य निर्धारित करें। हम दूसरों से प्रतिस्पर्धा क्यों करें? खुद से ही स्पर्धा क्यों न करें। हमेशा अपना पिछला रिकॉर्ड तोड़ने की कोशिश करें, इससे आपको भीतर से संतोष होगा।"


 जानिए पीएम नरेंद्र मोदी ने मन की बात में क्या कहा-


  •  मेरे प्यारे देशवासियो नमस्कार। बच्चों के एग्जाम के समय मैं भी लोगों के साथ।

  •  पिछली बार जनता से अनुभव और सुझाव मांगे थे, टीचर और समाज के हर वर्ग के लोगों ने अपनी बात भेजी।

  • नरेंद्र मोदी एप पर स्टूडेंट्स के सब्जेक्ट पर बात होती रहनी चाहिए।

  • पिछले मन की बात में पीएम ने स्वच्छता मिशन को लेकर लोगों से बात की थी।

  • बच्चों पर दबाव न बनाएं माता-पिता, सकारात्मक वातावरण बनाएं

  • कल बजट में मेरी भी परीक्षा

  • हम दूसरों से स्पर्द्धा करने में अपना समय क्यों बर्बाद करें? हम खुद से ही स्पर्द्धा क्यों न करें।

  • परीक्षा को अंकों का खेल मत मानिए, एक बहुत बड़े उद्देश्य को लेकर चलिए।

  • आपको बच्चों की परीक्षा की जितनी चिंता है, मुझे भी उतनी ही है। परीक्षा को देखने का तरीका बदल दें, तो हम चिंतामुक्त हो सकते हैं।

  • लोगों की आदत होती है,सोने से पहले लम्बी-लम्बी टेलीफ़ोन पर बातें करना। उसके बाद वही विचार चलते रहते हैं,कहां से नींद आएगी?


 सचिन ने कहा- खुद का टॉरगेट बनाएं


  • सचिन ने मन की बात में मैसेज दिया, ''स्टूडेंट्स से सभी पेरेंट्स से आशाएं होती हैं। आप खुद अपने टारगेट सेट कीजिए और उन्हें पूरा करने की कोशिश करो।''

  • ''मैंने भी क्रिकेट खेलना शुरू किया तो लोगों को मुझसे काफी आशाएं थीं। मैंने अपने टारगेट सेट किए। टारगेट को पूरा करने के लिए पॉजिटिव सोच जरूरी है।''

  •  ''सभी स्टूडेंट्स को एग्जाम के लिए बेस्ट विशेज।''

  • इससे पहले मन की बात प्रोग्राम से पहले सचिन ने ट्वीट कर बोर्ड एग्जाम देने बाले देश के सभी स्टूडेंट्स को शुभकामनाएं दी।

  • तेंदुलकर ने अपने संदेश में छात्रों से सकारात्मक बने रहने की अपील की।

  • तेंदुलकर ने कहा, "सकारात्मक सोच से ही सकारात्मक नतीजे प्राप्त होते हैं।"


विश्वनाथन आनंद ने कहा



  •  ''सभी स्टूडेंट्स को शुभकामनाएं देता हूं। स्टूडेंट्स पूरी नींद लें। प्रेशर लेने की जरूरत नहीं है।''

  •  ''अपनी तैयारी पर फोकस करें। ओवर कॉन्फिडेंट भी नहीं होना चाहिए।''

  •  ''एग्जाम में एकाग्रता जरूरी है।''

  • आनंद ने कहा कि बोर्ड परीक्षा की समस्याएं जीवन में आगे चल कर आने वाली चुनौतियों के समान ही होती हैं।

  • उन्होंने कहा, "परीक्षा जीवन में आगे चलकर आने वाली समस्याओं के ही समान हैं। सबसे जरूरी है कि हम शांत रहें। यह शतरंज के खेल की तरह ही है।"


 मुरारी बापू ने भी दिया मैसेज


  • कथावाचक मुरारी बापू ने इसी प्रोग्राम में कहा,''कई लोगों ने नरेंद्र मोदी एप पर योग और ध्यान को लेकर अपने पॉजिटिव अनुभव शेयर किए हैं।''

  • ''एग्जाम के दिनों में योग स्टूडेंट्स के लिए फायदेमंद हो सकता है।''

  • ''एग्जाम से पहले हड़बड़ी ना करें। पहले ही टाइम मैनेजमेंट कर लें। एग्जाम के इंस्ट्रक्शन्स को समय देकर जरूर पढ़ें। ये 5 मिनट आपको सवालों को हल करने के लिए तैयार करते हैं।''


प्रख्यात वैज्ञानिक प्रोफेसर सीएनआर राव ने बच्चों को ये संदेश दिए...

  • मैं यह अच्छी तरह से जानता हूं कि एग्जाम्स चिंता का कारण बनते हैं, और वो भी प्रतियोगी परीक्षाएं!

  • चिंता न करें, अपना बेहतरीन दें।


  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top