Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

भारत से गंदगी दूर करने का संकल्प लें: पीएम मोदी

 Girish Tiwari |  2016-09-30 07:46:42.0

modi_6


तहलका न्‍यूज ब्‍यूरो
नई दिल्‍ली:
पीएम नरेंद्र मोदी नेे शुक्रवार को स्वच्छ भारत मिशन की दूसरी वषर्गांठ से पहले दिल्ली में भारत स्वच्छता सम्मेलन (इंडोसैन) का उद्घाटन किया। इस मौके पर मोदी ने मुख्यमंत्रियों, मंत्रियों, जिला कलेक्टरों और 500 अमृत शहरों के निगम आयुक्तों और दूसरे संबंधित पक्षों को संबोधित किया।


पीएम मोदी ने कहा कि जैसे सत्याग्रही देश को गुलामी से आजाद कराता है। वैसे ही स्वच्छाग्रही देश को गंदगी से आजाद करवाता हमें हमारे प्राकृतिक संसाधनों का संतुलित उपयोग करने की दिशा में बल देना होगा है। जिस दिन हम मान लेंगे की सरकार हमारी है, देश हमारा है और देश की संपत्ति भी हमारी है, तो हमारा स्वाभाव जरुर बदलेगा। उन्‍होंने कहा कि देश में गंदगी के प्रति एक नफरत का माहौल पैदा होना चाहिए।


पीएम मोदी ने अपने भाषण में कहा कि देश में स्वच्छता को लेकर स्पर्धा का माहौल है। मीडिया ने सबसे ज्यादा स्वच्छता को प्रमोट किया है। स्वच्छता लोगों के स्वभाव में शामिल होना चाहिए। इसलिए सबको भारत से गंदगी दूर करने का संकल्प लेना चाहिए।


पीएम ने कहा कि सफाई की वजह से कीमत भी बढ़ती है। स्वच्छता की स्पर्धा ऐसी हो जिससे विजेता चुनने में दिक्कत आएं। स्वच्छता पर ध्यान देंगे तो जरूर अच्छे परिणाम मिलेंगे। स्वच्छता का स्वभाव ही गंदगी का समाधान है। राज्य सरकारों को स्वच्छता की स्पर्धाएं करानी चाहिए। गंदगी किसी की पसंद नहीं है। गंदगी देखते ही मन अस्वस्थ हो जाना चाहिए। गंदगी से आजादी के लिए स्वच्छाग्रहियों की जरूरत है।


उन्होंने कहा कि जहां स्वच्छता है वहीं प्रभुता है। स्वच्छता मिशन में रोजगार की संभावनाएं छिपी है। स्वच्छता से रोजगार भी पैदा हो सकता है। उन्होंने स्वच्छता से जुड़ी खबरों का बुलेटिन शुरू करने पर जोर दिया। जिस दिन सोच बदलेगी उसी दिन चीजें भी बदल जाएगी। वेस्ट से वेल्थ भी बना सकते है। इस सम्मेलन में स्वच्छ भारत मिशन के कई पहलुओं को लेकर छह अलग अलग विषयों पर सत्र आयोजित होंगे।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top