Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा- अब शॉपिंग करने पर मिलेगा इनाम

 Girish Tiwari |  2016-12-25 05:45:34.0

mann-ki-baat_650x400_41472363850


तहलका न्‍यूज ब्‍यूरो
नई दिल्‍ली: पीएम नरेंद्र मोदी रविवार को 'मन की बात' कर रहे हैं। उन्होंने लोगों को क्रिसमस की बधाई दी। उन्‍होंने कहा कि आज का दिन सेवा, त्याग और करुणा को अपने जीवन में महत्व देने का अवसर है।


उन्होंने कहा, ईसा मसीह ने कहा - ग़रीबों को हमारा उपकार नहीं, हमारा स्वीकार चाहिए। जीसस ने न केवल ग़रीबों की सेवा की बल्कि ग़रीबों के द्वारा की गयी सेवा की भी सराहना की है इससे जुड़ी एक कहानी भी बहुत प्रचलित है।


पीएम मोदी ने कहा कि आज महामना मदन मोहन मालवीय जी की भी जयन्ती है। मालवीय जी ने आधुनिक शिक्षा को नई दिशा दी। उन्हें जयन्ती पर भाव-भीनी श्रद्धांजलि।


महामना मदन मोहन मालवीय को जयंती पर याद करने और पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी को जन्मदिन की बधाई देने के बाद पीएम ने दो योजनाओं की सौगात देश को दी। उन्होंने बताया कि क्रिसमस के दिन दो योजनाओं का लाभ मिलने जा रहा है। ग्राहकों के लिये ‘लकी ग्राहक योजना' और व्यापारियों के लिये ‘डीजीधन व्यापार योजना' शुरू हो रही है।


क्रिसमस की सौगात के रूप में, पंद्रह हजार लोगों को ड्रॉ सिस्टम से इनाम मिलेगा। इस योजना के अंतर्गत 15 हजार लोगों के खाते में एक-एक हजार रुपए का इनाम दिया जाएगा और ये सिर्फ आज के लिए नहीं है। ये योजना आज से शुरू होकर 100 दिन तक चलने वाली है। हर दिन 15 हजार लोगों को एक-एक हजार रुपए का इनाम मिलेगा।


पीएम ने कहा कि डीजीधन व्यापार योजना में व्यापारी इस योजना से जुड़ें और अपना कारोबार भी कैशलैस बनाने के लिए ग्राहकों को भी जोड़ें। उन्होंने कहा कि ऐसे व्यापारियों को इनाम दिए जाएंगे। व्यापारियों का अपना व्यापार भी चलेगा और ऊपर से इनाम का अवसर भी मिलेगा। ये योजना, समाज के सभी वर्गों, खासकर गरीब एवं निम्न मध्यम-वर्ग के लिए बनाई गई है।


उन्होंने कहा कि मुझे जानकर खुशी होती है कि देश में ई-पेमेंट कैसे करना है, ऑनलाइन पेमेंट कैसे करना है, इसकी जागरुकता बहुत तेजी से बढ़ रही है। कैशलैस कारोबार 200 से 300 फीसदी बढ़ा है। जो व्यापारी डिजिटल लेन-देन करेंगे ऐसे व्यापारियों को इनकम टैक्स में छूट दे दी गई है।


कई संगठनों ने किसानों में डिजिटल पेमेंट को बढ़ावा देने के लिए सफल प्रयोग किये। GNFC ने 1000 POS मशीन खाद बाजार में लगाए हैं। कुछ ही दिनों में 35 हजार किसानों को 5 लाख खाद के बोरे डिजिटल पेमेंट से किये। GNFC की खाद की बिक्री में 27% बढ़ोतरी हुई। अर्थव्यवस्था में अनौपचारिक क्षेत्र बहुत बड़ा है, इन लोगों को मजदूरी का पैसा नगद में दिया जाता है, उसके कारण मजदूरों का शोषण होता है।


नौजवानों ने स्टार्टअप से काफी प्रगति की है लेकिन देश को काले धन, भ्रष्टाचार से मुक्त कराने के अभियान में पूरी ताकत से जुड़ना चाहिए।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top