Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

हत्या के आरोपी रह चुके हैं यूपी के नए बीजेपी अध्यक्ष

 Tahlka News |  2016-04-08 10:40:18.0

bjp-candidate-for-upcoming-2014-lok-sabha-171876


तहलका न्यूज ब्यूरो
लखनऊ, 8 अप्रैल. केशव प्रसाद मौर्या को उत्तर प्रदेश बीजेपी का अध्यक्ष बनाया गया है। इलाहाबाद के फूलपुर से सांसद केशव आरएसएस और विश्व हिन्दू परिषद से जुड़े रहे हैं।  वे काफी समय से मौर्या विहिप के पूर्णकालिक सदस्य भी रहे हैं। इससे साफ़ है कि आरएसएस विधानसभा चुनावों में बीजेपी के लिए जमीन तैयार कर रही है। हालांकि केशव प्रसाद मौर्या का कोई खास सियासी अनुभव नहीं रहा है।


मौर्या बीजेपी के हार्डलाइनर नेताओं में से एक हैं और उन्हें हमेशा विहिप का समर्थन मिलता रहा है। पहली बार लोक सभा चुनाव जीते मौर्या के दमन पर एक दाग भी है। इलाहबाद में 2011 में हुई मोहम्मद गौस की हत्या में मौर्या आरोपी हैं और केस अभी भी विचाराधीन है। साथ ही केशव पर कैशांबी और इलाहाबाद में 10 गंभीर मुकदमें दर्ज है।


हालांकि बीजेपी हाई कमांड ने मौर्या को प्रदेश अध्यक्ष बनाकर दो निशाना साधा है। एक तो मौर्या बैकवर्ड क्लास से हैं, जिससे पार्टी ने सोशल इंजीनियरिंग को साधने की कोशिश की है। वहीँ, दूसरी तरफ उनके नाम को आगे लाकर पार्टी में गुटबाजी को ख़त्म करने का प्रयास किया गया है।


बीजेपी प्रवक्ता विजय बहादुर पाठक ने कहा कि मौर्या बीजेपी के काफी सक्रिय नेता रहे हैं और उनके नेतृत्व में पार्टी 2017 का चुनाव लड़ेगी और जीत भी हासिल करेगी।


केशव ने आरएसएस, बीएचपी, बजरंग दल और बीजेपी में कई दायित्वों को निभाया है। श्रीराम जन्म भूमि और गोरक्षा और हिन्दू हित के लिए किए गए आंदोलन में शामिल रहे और इसके लिए जेल भी गए। विश्वहिंदू परिषद से उनका बहुत पुराना नाता रहा है। 1989-2002 तक अशोक सिंघल के साथ काम किया। मौर्या के लिए स्वंय विश्व हिंदू परिषद के दिवंगत नेता अशोक सिंघल ने दांव लगाया था। सिंघल चाहते थे कि केशव मौर्या को उनकी विरासत सौंपी जाए।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top