Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

प्रमोशन में आरक्षण के खिलाफ होगा सम्मेलन

 Girish Tiwari |  2016-09-27 14:31:48.0

आरक्षण

तहलका न्यूज़ ब्यूरो

लखनऊ. पदोन्नति में आरक्षण देने हेतु 117वें संविधान संशोधन बिल को संसद के शीतकालीन सत्र में पारित कराने की कोशिश के विरोध में 28 सितम्बर को कर्मचारियों, अधिकारियों व शिक्षकों का प्रान्तीय सम्मेलन आयोजित किया गया है।

सर्वजन हिताय संरक्षण समिति के अध्यक्ष शैलेन्द्र दुबे व अन्य प्रमुख पदाधिकारियों ए ए फारूकी, एच एन पाण्डेय, डी0सी0 दीक्षित, कायम रजा रिजवी, कमलेश मिश्र, राम राज दुबे, वाई एन उपाध्याय, मो नूर आलम, अजय तिवारी, सर्वेश शुक्ल, राजीव श्रीवास्वत, डा0 मौलेन्दु मिश्र, एस पी सिंह, त्रिवेणी मिश्र, पवन सिंह, अजय सिंह, आर बी एल यादव, आर पी उपाध्याय, ए के भल्ला ने बताया कि सम्मेलन विश्वेशरैय्या प्रेक्षागृह (राजभवन के सामने) में प्रातः 11:00 बजे से सायं 05:00 बजे तक चलेगा।


सम्मेलन में पदोन्नति में आरक्षण व 117वें संविधान संशोधन बिल के विरोध में संघर्ष की व्यापक रणनीति तय की जायेगी। समिति के पदाधिकारियों ने बताया कि जिस तरह केन्द्र सरकार ने मानसून सत्र के अन्त में लोक सभा व राज्य सभा में पार्लियामेण्टरी पैनेल की रिपोर्ट पेश कर दी है जिसमें पदोन्नति में आरक्षण देने हेतु 117वें संवधिान संशोधन बिल को शीघ्रातिशीघ्र पारित कराने की प्रबल अनुशंसा की गयी है, उससे सामान्य व अन्य पिछड़ी जाति के कर्मचारियों, अधिकारियों व शिक्षकों में भारी गुस्सा है।

इस रिपोर्ट को संसद में पेश कर देने का साफ मतलब है कि केन्द्र सरकार की नियत साफ नहीं है और संसद के शीतकालीन सत्र में 117वें संविधान संशोधन बिल को पारित कराने की तैयारी है। समिति के पदाधिकारियों ने चेतावनी दी कि पदोन्नति में आरक्षण देने हेतु विगत में चार बार संविधान संशोधन किये जा चुके हैं किन्तु अब पांचवी बार संविधान संशोधन की कोशिश कामयाब नहीं होने दी जायेगी जिसके लिये प्रदेश के 18 लाख कर्मचारी व 06 लाख शिक्षक पूरी तरह लामबन्द हैं।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top